Types of Diets

There are different types of diets and an individual's diet is the sum of food and drink that one habitually consumes. Dieting is the practice of attempting to achieve or maintain a certain weight through diet. People's dietary choices are often affected by a variety of factors, including ethical and religious beliefs, clinical need, or a desire to control weight.

Not all diets are considered healthy. Some people follow unhealthy diets through habit, rather than through a conscious choice to eat unhealthily. Terms applied to such eating habits include "junk food diet" and "Western diet". Many diets are considered by clinicians to pose significant health risks and minimal long-term benefit. This is particularly true of "crash" or "fad" diets – short-term, weight-loss plans that involve drastic changes to a person's normal eating habits.

Importance of balanced diet

The importance of a balanced diet can’t be emphasized enough for a healthy lifestyle. A healthy lifestyle can be attained by maintaining a balanced diet and keeping into consideration to meet all the essential nutrients required by the body. A proper meal plan helps to attain ideal body weight and reduce the risk of chronic diseases like diabetes, cardiovascular and other types of cancer.

Eating a healthy diet is all about feeling great, having more energy, improving your health, and boosting your mood. Good nutrition, physical activity, and healthy body weight are essential parts of a person’s overall health and well-being. There’s no questioning the importance of healthy food in your life. Unless you maintain a proper diet for a healthy body, you may be prone to diseases, infection, or even exhaustion.

The importance of nutritious food for children especially needs to be highlighted since otherwise they may end up being prone to several growth and developmental problems. Some of the most common health problems that arise from lack of a balanced diet are heart disease, cancer, stroke, and diabetes.

Being physically active manages many health problems and improves mental health by reducing stress, depression, and pain. Regular exercise helps to prevent metabolic syndrome, stroke, high blood pressure, arthritis, and anxiety.

importance of balanced diet

Diet for weight loss

Which diet is the most effective in weight loss? This is a popular question among people looking to reduce some weight. Different types of diets have gained popularity over the years for their visible impacts, other benefits and from the beliefs that their proponents spread via word of mouth, media, and other channels. Despite the popularity, some information may be misleading.

Diets can be defined as fixed or outlined eating and drinking plans for a specific purpose such as weight loss or weight gain. Particularly for weight loss, some meal plans are healthy and sustainable in the long run, while others, though effective in the short run, are very restrictive and may harm your body. While some diets restrict carbohydrates, calories, or unhealthy fats, others concentrate on reducing your appetite. So, what are the different types of diets?

Types of diets

People diet for all types of reasons as there are no shortage of reasons for wanting to live a healthier life. There are also a wide variety of options when it comes to selecting a diet that might work for you. Here is a closer look at some of the different types of diets that people are using all around the world.

• The paleo diets
• The ketogenic diets
• The blood type diet
• The vegan diet
• The south beach diets
• The gluten diets
• The Mediterranean diet
• The raw food diets
• The Atkins diets
• Low carb diets
• The dukan diet
• The ultra-low-fat diet

Paleo diet

This is a natural way of eating, one that almost abandons all intake of sugar. The only sugar in a Paleo diet comes from fruit. However, abandoning sugar is not the only stipulation. Processed foods and grains are also eliminated from the Paleo diet. The fewer number of carbohydrates in your system leads to a decreased amount of glucose. So your system will then begin to use fat as its fuel source. In a Paleo diet, dairy is also eliminated. So what can be eaten? A Paleo diet consists of fish, fowl, vegetables, fruits, nuts, oils, sweet potatoes, eggs and meat, so long as that meat is grass-fed and not grain-fed.

This eating plan encourages you to eat the same foods as the hunter-gatherer ancestors may have consumed before the development of agriculture, which resulted in the western diet characterized by dairy, grains, and processed foodstuffs. Foods consumed are lean proteins, grass-fed meat, whole foods, fruits, eggs, fowl, vegetables, nuts, and seeds. Being a restrictive low-carb natural way of eating, only sugars from fruits are allowed, and it prohibits the intake of dairy, grain-fed meat, and processed foodstuffs. Some flexible Paleo diet versions allow dairy such as butter and cheese and tubers like sweet potatoes.

Benefits

• Since carbohydrates are limited, the amount of glucose in your body is decreased, triggering the use of fat as the fuel source. This may result in significant weight.

Disadvantages

• It eliminates nutritious and healthy foodstuffs such as legumes, whole grains, and dairy.
• Although it is claimed to minimize the risk of heart diseases by reducing risk factors such as blood pressure, blood sugar, cholesterol, and blood triglycerides, some research shows that it may be bad for your heart health.

paleo diet

Vegan diet

This diet is a form of a vegetarian diet as it eliminates meat and animal products. One of the primary effects of this diet is that it reduces the intake of cholesterol and saturated fat. It takes some planning, but if a vegan diet is rationed out properly, it can have many positive effects. Studies have proven that those who practice a vegan diet minimize their overall risk of coronary heart disease, obesity and high blood pressure. To compensate for a lack of meat, vegans must find a way to incorporate more sources of protein and vitamin B-12 into their diets.

The vegan diet restricts all animal products for ethical, environmental, or health reasons. Veganism is also associated with resistance to animal exploitation and cruelty. In addition to eliminating meat, it eliminates dairy, eggs, and animal-derived products, such as gelatin, honey, albumin, whey, casein, and some forms of vitamin D3.

A vegan diet seems to be very effective at helping people lose weight — often without counting calories — because it’s very low fat and high fiber content may make you feel fuller for longer. Vegan diets are consistently linked to lower body weight and body mass index (BMI) compared to other diets. Veganism is the strictest type of vegetarianism because on top of meat, it does not allow the consumption of eggs, dairy, or animal-derived products like honey, gelatin, whey, albumin, casein, or some types of vitamin d-3. Other than ethical, health, and environmental reasons, they avoid animal products for compassionate purposes. Here are the different types of vegan diets.

Benefits

• It is low-fat and high protein; therefore, it contributes to weight loss by making one feel fuller for longer.
• It is a plant-based diet; thus, it may reduce the risk of type 2 diabetes, heart diseases, and premature death.
• Because processed meat is restricted, the risk of Alzheimer’s, cancer, or heart diseases is minimized.
• It minimizes the risk of coronary heart diseases, high blood pressure, and obesity.

Disadvantages

• It may be low on several nutrients such as vitamin D, B12, iron, iodine, calcium, omega-3 fatty acids, and zinc because it prohibits animal foods intake.

vegan diet

Ketogenic diet

The ketogenic diet is a high-fat, adequate-protein, low-carbohydrate diet that in medicine is used mainly to treat hard-to-control (refractory) epilepsy in children. The diet forces the body to burn fats rather than carbohydrates. Normally carbohydrates in food are converted into glucose, which is then transported around the body and is important in fueling brain function. But if little carbohydrate remains in the diet, the liver converts fat into fatty acids and ketone bodies, the latter passing into the brain and replacing glucose as an energy source.

An elevated level of ketone bodies in the blood (a state called ketosis) eventually lowers the frequency of epileptic seizures. Around half of children and young people with epilepsy who have tried some form of this diet saw the number of seizures drop by at least half, and the effect persists after discontinuing the diet. Some evidence shows that adults with epilepsy may benefit from the diet and that a less strict regimen, such as a modified Atkins diet, is similarly effective. Side effects may include constipation, high cholesterol, growth slowing, acidosis, and kidney stones

This is another meal plan where carb intake is reduced, and unlike the others, consumption of healthy fats (nuts, avocados, seeds, coconuts, oily fish, and olive oil) is increased to permit the body to burn fat as fuel instead of carbohydrates (glucose). It is the most popular diet in the US. By following this eating plan, fat deposits are broken down for fuel to create ketones through the ketosis process.

Benefits

• It is used to treat drug-resistant epilepsy, manage diabetes, lower cholesterol and triglycerides, and improve blood pressure.
• Weight loss through the elimination of empty-calorie staples such as white rice, white bread, and sugary beverages, reducing appetite and burning more calories.

Disadvantages

• It prohibits the intake of nutritious fruits and veggies that are high in carbohydrates
• Too much protein intake may be harmful to your health
• May result in fatigue due to lack of carbs
• May result in ketoacidosis in people with Type 1 diabetes that can lead to diabetic coma or death.

keto diet

Gluten diet

A gluten-free diet (GFD) is a nutritional plan that strictly excludes gluten, which is a mixture of proteins found in wheat (and all of its species and hybrids, such as spelt, kamut, and triticale), as well as barley, rye, and oats. The inclusion of oats in a gluten-free diet remains controversial, and may depend on the oat cultivar and the frequent cross-contamination with other gluten-containing cereals.

Gluten proteins have low nutritional, and biological value and the grains that contain gluten are not essential in the human diet. However, an unbalanced selection of food and an incorrect choice of gluten-free replacement products may lead to nutritional deficiencies. Replacing flour from wheat or other gluten-containing cereals with gluten-free flours in commercial products may lead to a lower intake of important nutrients, such as iron and B vitamins. Some gluten-free commercial replacement products are not enriched or fortified as their gluten-containing counterparts, and often have greater lipid/carbohydrate content. Children especially often over-consume these products, such as snacks and biscuits. Nutritional complications can be prevented by a correct dietary education.

gluten free diet

Some other diets

The Blood Type Diet

Some doctors have started to research diets that coincide with particular blood types. The premise of these diets attempts to match people with their common dietary needs based on their blood type. For example, individuals with type O blood are recommended to eat lots of food that are high in protein. In order to lose weight, spinach, red meat, seafood and broccoli are suggested while dairy should be avoided. Those with type A blood are recommended to avoid meat and place an emphasis on turkey, tofu, and fruit while weight loss is contingent on eating a diet that consists primarily of soy, seafood and vegetables. Individuals with type B and AB blood also have their own dietary restrictions and recommendations.

The South Beach Diet

This diet was first introduced in 2003 and is based on the premise of changing one’s overall eating habits by balancing out one’s everyday diet. Certain carbohydrates are completely avoided. It does not eliminate carbohydrates altogether, but aims to educate dieters on which carbs to always avoid. This often leads to developing a healthy way of eating so that it will be sustainable for the rest of people’s lives. The diet includes a selection of healthy fats, lean protein, as well as good carbs.

The Mediterranean Diet

This is another kind of vegetable-heavy diet that avoids a lot of meat, but does not eliminate it altogether. This diet has been proven to help with depression, in addition to controlling blood sugar levels and helping with weight loss. The Mediterranean diet recommends the use of oil as much as possible and that means as an alternative to butter, salad dressings or marinades. It also emphasizes adding vegetables to each meal and favors fish over chicken. Whole grains, nuts and herbs are also used in larger amounts.

Raw Food Diet

This is a diet that places a premium on eating uncooked and unprocessed foods. The diet eliminates the intake of any foods that have been pasteurized or produced with any kind of synthetics or additives. The diet is intended to create a surge in energy, a decrease in inflammation, while also lowering the number of carcinogens in one’s diet.




The above essentials are available with AFD SHIELD.
AFD Shield capsule is a combination of 12 natural ingredients among which are Algal DHA, Ashwagandha, Curcumin and Spirullina. AFD Shield reduces TG, increases HDL and improves age related cognitive decline. It also reduces stress and anxiety and performs anti-aging activity.Moreover, it also enhances the immunomodulatory activity, improves immunity and reduces inflammation and oxidative stress. Nutralogicx: AFD SHIELD

आहार के प्रकार

विभिन्न प्रकार के आहार होते हैं औरएक एन व्यक्ति का आहार भोजन और पेय का योग है जो आदतन उपभोग करता है। परहेज़ आहार को प्राप्त करने या आहार के माध्यम से एक निश्चित वजन बनाए रखने के प्रयास का अभ्यास है। लोगों के आहार विकल्प अक्सर नैतिक और धार्मिक विश्वासों, नैदानिक आवश्यकता, या वजन को नियंत्रित करने की इच्छा सहित विभिन्न कारकों से प्रभावित होते हैं।

सभी आहार को स्वस्थ नहीं माना जाता है। कुछ लोगों को आदत के माध्यम से अस्वस्थ आहार का पालन करें, बजाय एक सचेत विकल्प के माध्यम से अस्वास्थ्यकर खाने के लिए । इस तरह के खाने की आदतों पर लागू शर्तों में "जंक फूड डाइट" और "वेस्टर्न डाइट" शामिल हैं। कई आहार चिकित्सकों द्वारा महत्वपूर्ण स्वास्थ्य जोखिम और न्यूनतम दीर्घकालिक लाभ पैदा करने के लिए विचार कर रहे हैं । यह "दुर्घटना" या "सनक" आहार के बारे में विशेष रूप से सच है - अल्पकालिक, वजन घटाने की योजना है कि एक व्यक्ति के सामान्य खाने की आदतों में कठोर परिवर्तन शामिल है।

संतुलित आहार का महत्व

एक संतुलित आहार के महत्व को एक स्वस्थ जीवन शैली के लिए पर्याप्त जोर नहीं दिया जा सकता है । संतुलित आहार को बनाए रखकर और शरीर के लिए आवश्यक सभी आवश्यक पोषक तत्वों को पूरा करने के लिए ध्यान में रखकर एक स्वस्थ जीवन शैली प्राप्त की जा सकती है। भोजन की उचित योजना शरीर के आदर्श वजन को प्राप्त करने और मधुमेह, हृदय और अन्य प्रकार के कैंसरजैसे पुराने रोगों के खतरे को कम करने में मदद करतीहै ।

एक स्वस्थ आहार खाना सब के बारे में बहुत अच्छा लग रहा है, और अधिक ऊर्जा होने, अपने स्वास्थ्य में सुधार, और अपने मूड को बढ़ाने । अच्छा पोषण, शारीरिक गतिविधि, और स्वस्थ शरीर के वजन एक व्यक्ति के समग्र स्वास्थ्य और भलाई के आवश्यक भाग हैं । कोई अपने जीवन में स्वस्थ भोजन के महत्व पर सवाल है । जब तक आप स्वस्थ शरीर के लिए उचित आहार नहीं बनाए रखते हैं, तब तक आप बीमारियों, संक्रमण या थकावट से भी ग्रस्त हो सकते हैं।

बच्चों के लिए पौष्टिक भोजन के महत्व को विशेष रूप से उजागर करने की आवश्यकता है क्योंकि अन्यथा वे कई विकास और विकासात्मक समस्याओं से ग्रस्त हो सकते हैं । संतुलित आहार की कमी से उत्पन्न होने वाली कुछ सबसे आम स्वास्थ्य समस्याएं हृदय रोग, कैंसर, स्ट्रोक और मधुमेहहैं।

शारीरिक रूप से सक्रिय होने से कई स्वास्थ्य समस्याओं का प्रबंधन होता है और तनाव, अवसाद और दर्द को कम करके मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है। नियमित व्यायाम मेटाबोलिक सिंड्रोम, स्ट्रोक, उच्च रक्तचाप, गठियाऔर चिंता को रोकने में मदद करताहै।

संतुलित आहार का महत्व

वजन घटाने के लिए आहार

वजन घटाने में कौन सा आहार सबसे कारगर है? यह कुछ वजन कम करने के लिए देख रहे लोगों के बीच एक लोकप्रिय सवाल है। विभिन्न प्रकार के आहारों ने अपने दृश्यमान प्रभावों, अन्य लाभों और उन विश्वासों से, जो उनके समर्थकों ने मुंह, मीडिया और अन्य चैनलों के शब्द के माध्यम से फैलते हैं, के लिए वर्षों से लोकप्रियता प्राप्त की है। लोकप्रियता के बावजूद, कुछ जानकारी भ्रामक हो सकती है।

आहार को वजन घटाने या वजन बढ़ने जैसे विशिष्ट उद्देश्य के लिए निश्चित या उल्लिखित खाने और पीने की योजना के रूप में परिभाषित किया जा सकता है। विशेष रूप से वजन घटाने के लिए, कुछ भोजन योजनाएं लंबे समय में स्वस्थ और टिकाऊ होती हैं, जबकि अन्य, हालांकि अल्पावधि में प्रभावी होते हैं, बहुत प्रतिबंधात्मक होते हैं और आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं। जबकि कुछ आहार कार्बोहाइड्रेट, कैलोरी, या अस्वस्थ वसा को प्रतिबंधित करते हैं, दूसरों को अपनी भूख को कम करने पर ध्यान केंद्रित । तो, विभिन्न प्रकार के आहार क्या हैं?

आहार के प्रकार

लोगों को कारणों के सभी प्रकार के लिए आहार के रूप में वहां एक स्वस्थ जीवन जीने के इच्छुक के लिए कारणों की कोई कमी नहीं है । जब आपके लिए काम करने वाले आहार का चयन करने की बात आती है तो विभिन्न प्रकार के विकल्प भी हैं। यहां विभिन्न प्रकार के आहारों में से कुछ पर करीब से नज़र डाली गई है जो लोग दुनिया भर में उपयोग कर रहे हैं।

• पैलियो आहार
• कीटोजेनिक आहार
• रक्त प्रकार आहार
• शाकाहारी आहार
• दक्षिण समुद्र तट आहार
• लस आहार
• भूमध्य आहार
• कच्चे भोजन आहार
• एटकिंस आहार
• कम कार्ब आहार
• दूकान आहार
• अल्ट्रा-कम वसा वाला आहार

पैलियो आहार

यह खाने का एक प्राकृतिक तरीका है, एक है कि लगभग चीनी के सभी सेवन छोड़ देता है । पैलियो डाइट में सिर्फ चीनी ही फल से आती है। हालांकि, चीनी को छोड़ना ही एकमात्र शर्त नहीं है । प्रोसेस्ड फूड और अनाज भी पैलियो डाइट से खत्म हो जाते हैं। आपके सिस्टम में कार्बोहाइड्रेट की कम संख्या में ग्लूकोज की मात्रा कम हो जाती है। तो अपने सिस्टम तो अपने ईंधन स्रोत के रूप में वसा का उपयोग करने के लिए शुरू हो जाएगा। पैलियो डाइट में डेयरी भी खत्म हो जाती है। तो क्या खाया जा सकता है? एक Paleo आहार मछली, मुर्गी, सब्जियां, फल, नट, तेल, मीठे आलू, अंडे और मांस के होते हैं, जब तक कि मांस घास खिलाया जाता है और अनाज खिलाया नहीं है ।

यह खाने की योजना आपको वही खाद्य पदार्थ खाने के लिए प्रोत्साहित करती है जैसा कि शिकारी-संग्रहकर्ता पूर्वजों ने कृषि के विकास से पहले भस्म कर दिया होगा, जिसके परिणामस्वरूप डेयरी, अनाज और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों की विशेषता वाले पश्चिमी आहार होते हैं। खाद्य पदार्थों का सेवन दुबला प्रोटीन, घास खिलाया मांस, पूरे खाद्य पदार्थ, फल, अंडे, मुर्गी, सब्जियां, नट, और बीजहैं। खाने का एक प्रतिबंधात्मक कम कार्ब प्राकृतिक तरीका होने के नाते, फलों से केवल शर्करा की अनुमति है, और यह डेयरी, अनाज खिलाया मांस, और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों के सेवन पर प्रतिबंध लगाता है । कुछ लचीले पैलियो आहार संस्करण डेयरी जैसे मक्खन और पनीर और मीठे आलू जैसे कंद की अनुमति देते हैं।

लाभ

• चूंकि कार्बोहाइड्रेट सीमित हैं, इसलिए आपके शरीर में ग्लूकोज की मात्रा कम हो जाती है, जिससे ईंधन स्रोत के रूप में वसा के उपयोग को ट्रिगर किया जाता है। इसके परिणामस्वरूप महत्वपूर्ण वजन हो सकता है।

नुकसान

• यह फलियां, साबुत अनाज और डेयरी जैसे पौष्टिक और स्वस्थ खाद्य पदार्थों को समाप्त करता है।
• हालांकि ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर, कोलेस्ट्रॉल और ब्लड ट्राइग्लिसराइड्स जैसे जोखिम वाले कारकों को कम करके दिल की बीमारियों के खतरे को कम करने का दावा किया जाता है, लेकिन कुछ शोध बताते हैं कि यह आपके दिल की सेहत के लिए खराब हो सकताहै ।

पालियो आहार

वीएगन आहार

यह आहार शाकाहारी आहार का एक रूप है क्योंकि यह मांस और पशु उत्पादों को समाप्त करता है। इस आहार का एक प्राथमिक प्रभाव यह है कि यह कोलेस्ट्रॉल और संतृप्त वसा का सेवन कम करता है। यह कुछ योजना लेता है, लेकिन अगर एक शाकाहारी आहार ठीक से बाहर राशन है, यह कई सकारात्मक प्रभाव हो सकता है । अध्ययनों से साबित कर दिया है कि जो लोग एक शाकाहारी आहार का अभ्यास कोरोनरी हृदय रोग, मोटापा और उच्च रक्तचाप के अपने समग्र जोखिम को कम करने । मांस की कमी के लिए क्षतिपूर्ति करने के लिए, शाकाहारी अपने आहार में प्रोटीन और विटामिन बी-12 के अधिक स्रोतों को शामिल करने के लिए एक रास्ता खोजना होगा ।

शाकाहारी आहार नैतिक, पर्यावरण, या स्वास्थ्य कारणों के लिए सभी पशु उत्पादों को प्रतिबंधित करता है । शाकाहारी भी पशु शोषण और क्रूरता के प्रतिरोध के साथ जुड़ा हुआ है । मांस को खत्म करने के अलावा, यह डेयरी, अंडे, और पशु व्युत्पन्न उत्पादों, जैसे जिलेटिन, शहद, एल्बुमिन, मट्ठा, कैसिन, और विटामिन डी 3 के कुछ रूपों को समाप्त करता है।

एक शाकाहारी आहार लोगों को वजन कम करने में मदद करने में बहुत प्रभावी लगता है-अक्सर कैलोरी की गिनती के बिना-क्योंकि यह बहुत कम वसा और उच्च फाइबर सामग्री आप लंबे समय के लिए फुलर महसूस कर सकते हैं । शाकाहारी आहार लगातार अन्य आहार की तुलना में कम शरीर के वजन और बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) से जुड़े हुएहैं। शाकाहारी शाकाहार का सबसे सख्त प्रकार है क्योंकि मांस के शीर्ष पर, यह अंडे, डेयरी, या पशु-व्युत्पन्न उत्पादों जैसे शहद, जिलेटिन, मट्ठा, एल्बुमिन, कैसिन, या कुछ प्रकार के विटामिन डी-3 के उपभोग की अनुमति नहीं देता है। नैतिक, स्वास्थ्य और पर्यावरणीय कारणों के अलावा, वे अनुकंपा उद्देश्यों के लिए पशु उत्पादों से बचते हैं। यहां विभिन्न प्रकार के शाकाहारी आहार हैं।

लाभ

• यह कम वसा और उच्च प्रोटीन है; इसलिए, यह एक लंबे समय के लिए फुलर महसूस करके वजन घटाने में योगदान देता है।
• यह एक पौधे आधारित आहार है; इस प्रकार, यह टाइप 2 मधुमेह, हृदय रोगों, और अकाल मृत्यु के जोखिम को कम कर सकता है।
• क्योंकि प्रसंस्कृत मांस प्रतिबंधित है, अल्जाइमर, कैंसर, या दिल की बीमारियों का खतरा कम है ।
• यह कोरोनरी दिल की बीमारियों, उच्च रक्तचाप और मोटापे के खतरे को कम करता है।

नुकसान

• यह विटामिन डी, बी12, आयरन, आयोडीन, कैल्शियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड और जिंक जैसे कई पोषक तत्वों पर कम हो सकता है क्योंकि यह पशु खाद्य पदार्थों के सेवन पर प्रतिबंध लगाता है।

शाकाहारी आहार

कीटोजेनिक आहार

कीटोजेनिक आहार एक उच्चवसा,पर्याप्तप्रोटीन, कम कार्बोहाइड्रेट आहार है जिसका उपयोग मुख्य रूप से बच्चों में हार्ड-टू-कंट्रोल (रिफ्रैक्टरी) मिर्गी के इलाज के लिए किया जाता है। आहार शरीर को कार्बोहाइड्रेट के बजाय वसा जलाने के लिए बल देता है। आम तौर पर भोजन में कार्बोहाइड्रेट ग्लूकोज में परिवर्तित हो जातेहैं, जो तब शरीर के चारों ओर ले जाया जाता है और मस्तिष्क के कार्य को ईंधन देनेमें महत्वपूर्ण है। लेकिन अगर थोड़ा कार्बोहाइड्रेट आहार में रहता है, जिगर फैटी एसिड और कीटोन शरीर में वसा परिवर्तित करता है, बाद मस्तिष्क में गुजर रहा है और एक ऊर्जा स्रोत के रूप में ग्लूकोज की जगह ।

रक्त में कीटोन शरीर का एक ऊंचा स्तर ( कीटोसिसनामक राज्य) अंततः मिर्गी के दौरेकी आवृत्ति को कम करताहै । मिर्गी के साथ लगभग आधे बच्चों और युवा लोगों को जो इस आहार के कुछ फार्म की कोशिश की है दौरे की संख्या में कम से आधे से ड्रॉप देखा, और प्रभाव आहार बंद करने के बाद बनी हुई है । कुछ सबूतों से पता चलता है कि मिर्गी के साथ वयस्कों को आहार से लाभ हो सकता है और एक संशोधित एटकिंस आहारजैसे कम सख्तआहार, इसी तरह प्रभावी है। साइड इफेक्ट कब्ज, उच्च कोलेस्ट्रॉल,विकास धीमा, एसिडोसिस,और गुर्दे की पथरी शामिल हो सकते हैं

यह एक और भोजन योजना है जहां कार्ब का सेवन कम हो जाता है, और दूसरों के विपरीत, स्वस्थ वसा (नट, एवोकाडो, बीज, नारियल, तेल मछली और जैतून का तेल) की खपत शरीर को कार्बोहाइड्रेट (ग्लूकोज) के बजाय ईंधन के रूप में वसा जलाने की अनुमति देने के लिए बढ़ जाती है। यह अमेरिका में सबसे लोकप्रिय आहार है। इस खाने की योजना का पालन करके, कीटोसिस प्रक्रिया के माध्यम से कीटोन बनाने के लिए ईंधन के लिए वसा जमा टूट जाता है।

लाभ

• इसका उपयोग दवा प्रतिरोधी मिर्गी के इलाज, मधुमेह का प्रबंधन, कम कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स, और रक्तचाप में सुधार करने के लिए किया जाता है।
• सफेद चावल, सफेद रोटी और मीठा पेय पदार्थ जैसे खाली कैलोरी स्टेपल के उन्मूलन के माध्यम से वजन घटाने, भूख को कम करने और अधिक कैलोरी जलने।

नुकसान

• यह कार्बोहाइड्रेट में उच्च रहे पौष्टिक फलों और सब्जियों के सेवन पर प्रतिबंध लगाता है
• बहुत अधिक प्रोटीन का सेवन आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है
• कार्ब्स की कमी के कारण थकान हो सकती है
• टाइप 1 मधुमेह वाले लोगों में कीटोएसिडोसिस हो सकता है जो मधुमेह कोमा या मृत्यु का कारण बन सकता है।

कीटो आहार

लस आहार

एक लस मुक्त आहार (जीएफडी) एक पोषण योजना है जो ग्लूटेन को सख्ती से बाहर करती है, जो गेहूं (और इसकी सभी प्रजातियों और संकरों, जैसे स्पष्ट, कामुटऔर त्रिकावले)केसाथ-साथ जौ, राईऔर जई में पाए जाने वाले प्रोटीन का मिश्रण है। [1] एक लस मुक्त आहार में जई का समावेश विवादास्पद रहता है, और जई खेती और अन्य लस युक्त अनाज के साथ लगातार पार संदूषण पर निर्भर हो सकता है ।

ग्लूटेन प्रोटीन में कम पोषणहोताहै, और जैविक मूल्य और ग्लूटेन वाले अनाज मानव आहार में आवश्यक नहीं हैं। [16] हालांकि, भोजन का असंतुलित चयन और लस मुक्त प्रतिस्थापन उत्पादों का एक गलत विकल्प पोषण की कमी का कारण बन सकता है। वाणिज्यिक उत्पादों में लस मुक्त आटे के साथ गेहूं या अन्य लस युक्त अनाज से आटे की जगह आयरन और बी विटामिनजैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों का कम सेवन हो सकताहै। कुछ लस मुक्त वाणिज्यिक प्रतिस्थापन उत्पादों को समृद्ध या उनके लस युक्त समकक्षों के रूप में दृढ़ नहीं हैं, और अक्सर अधिक लिपिड/कार्बोहाइड्रेट सामग्री है । बच्चे विशेष रूप से अक्सर इन उत्पादों का अधिक उपभोग करते हैं, जैसे स्नैक्स और बिस्कुट। पोषण संबंधी जटिलताओं को सही आहार शिक्षा से रोका जा सकता है।

ग्लूटन मुक्त भोजन

कुछ अन्य आहार

रक्त प्रकार आहार

कुछ डॉक्टरों ने विशेष रक्त प्रकारों के साथ मेल खाते आहार पर शोध करना शुरू कर दिया है। इन आहारों का आधार लोगों को उनके रक्त प्रकार के आधार पर उनकी आम आहार आवश्यकताओं से मेल खाने का प्रयास करता है। उदाहरण के लिए, टाइप ओ रक्त वाले व्यक्तियों को बहुत सारे भोजन खाने की सिफारिश की जाती है जो प्रोटीन में उच्च होते हैं। वजन कम करने के लिए पालक, रेड मीट, सीफूड और ब्रोकली का सुझाव दिया जाता है जबकि डेयरी से बचना चाहिए। प्रकार के साथ एक रक्त मांस से बचने के लिए और टर्की, टोफू, और फल पर जोर देने की सिफारिश कर रहे हैं, जबकि वजन घटाने एक आहार है कि मुख्य रूप से सोया, समुद्री भोजन और सब्जियों के होते है खाने पर आकस्मिक है । प्रकार बी और एबी रक्त वाले व्यक्तियों के पास अपने स्वयं के आहार प्रतिबंध और सिफारिशें भी हैं।

दक्षिण समुद्र तट आहार

इस आहार को पहली बार 2003 में पेश किया गया था और यह किसी के रोजमर्रा के आहार को संतुलित करके समग्र खाने की आदतों को बदलने के आधार पर आधारित है। कुछ कार्बोहाइड्रेट पूरी तरह से बचा जाता है। यह कार्बोहाइड्रेट को पूरी तरह खत्म नहीं करता है, लेकिन इसका उद्देश्य उन डाइटर्स को शिक्षित करना है जिन पर कार्ब्स हमेशा से बचने के लिए हैं। यह अक्सर खाने का एक स्वस्थ तरीका विकसित करने की ओर जाता है ताकि यह बाकी लोगों के जीवन के लिए टिकाऊ होगा। आहार में स्वस्थ वसा, दुबला प्रोटीन, साथ ही अच्छे कार्ब्स का चयन शामिल है।

भूमध्य आहार

यह एक और तरह की वेजिटेबल हैवी डाइट है जो बहुत सारे मीट से बचती है, लेकिन इसे पूरी तरह खत्म नहीं करती। इस आहार को अवसाद के साथ मदद करने के लिए साबित किया गया है, रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने और वजन घटाने के साथ मदद करने के अलावा । भूमध्य आहार जितना संभव हो तेल के उपयोग की सिफारिश की है और इसका मतलब है कि मक्खन, सलाद ड्रेसिंग या marinades के लिए एक विकल्प के रूप में । यह भी प्रत्येक भोजन के लिए सब्जियां जोड़ने पर जोर देती है और चिकन पर मछली एहसान । साबुत अनाज, नट्स और जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल भी बड़ी मात्रा में किया जाता है।

कच्चे खाद्य आहार

यह एक आहार है जो बिना पके हुए और असंसाधित खाद्य पदार्थों को खाने पर प्रीमियम रखता है। आहार किसी भी खाद्य पदार्थ है कि पाश्चुरीकृत किया गया है या सिंथेटिक्स या योजक के किसी भी प्रकार के साथ उत्पादित के सेवन को समाप्त । आहार का उद्देश्य ऊर्जा में वृद्धि, सूजन में कमी पैदा करना है, जबकि किसी के आहार में कैंसरजनकों की संख्या को भी कम करना है।




उपर ब्लॉग में बताई गई उपलब्धिया AFD-SHIELD के साथ उपलब्ध हैं
एएफडी शील्ड कैप्सूल 12 प्राकृतिक अवयवों का एक संयोजन है जिनमें से अलगल डीएचए, अश्वगंधा, करक्यूमिन और स्पिरुलिना हैं। एएफडी शील्ड टीजी को कम करता है, एचडीएल बढ़ाता है और उम्र से संबंधित संज्ञानात्मक गिरावट में सुधार करता है। यह तनाव और चिंता को भी कम करता है और एंटी-एजिंग गतिविधि करता है। इसके अलावा, यह इम्युनोमॉड्यूलेटरी गतिविधि को बढ़ाता है, प्रतिरक्षा में सुधार करता है और सूजन और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है। न्यूट्रोग्लिग्क्स: एएफडी-शील्ड

AFDIL Ltd.
+91 9920121021

order@afdil.com

Read Also:


Disclaimer
Home