9326158943

What Are Herbal Supplements?

What are herbal supplements?

Herbal remedies aren't new — plants have been used for medicinal purposes for thousands of years.

But herbal supplements generally haven't received the same scientific scrutiny and aren't as strictly regulated as medications. Yet herbs and herbal products — including those labeled as "natural" — can have strong effects in the body.

It's important to learn about potential benefits and side effects of herbal supplements before you buy. Be sure to talk with your doctor, especially if you take any medicines, have a chronic health problem, or are pregnant or breastfeeding.

Herbal supplements are products derived from plants and/or their oils, roots, seeds, berries or flowers. Herbal supplements have been used for many centuries. They are believed to have healing properties.

Herbal supplements are products that:

• Supplement your diet (add to and not replace something);

• Contain one or more ingredients;

• Are taken by mouth in the form of tablets, capsules, or liquid; and

• Are clearly labeled as dietary supplements.

Herbal supplement manufacturers do not have to prove the safety of their products like medication manufacturers do. The Food and Drug Administration (FDA) lets them tell you what conditions their products might help—called “claims”—if they have information to prove the claim. Once a product is on the market, the FDA monitors the maker’s claims, package inserts, and any problems that consumers report. The FDA has taken legal action against a number of manufacturers for making false or deceptive claims or because the product was unsafe.

Herbal medicine (also herbalism) is the study of pharmacognosy and the use of medicinal plants, which are a basis of traditional medicine. There is limited scientific evidence for the safety and efficacy of plants used in 21st century herbalism, which generally does not provide standards for purity or dosage. The scope of herbal medicine commonly includes fungal and bee products, as well as minerals, shells and certain animal parts. Herbal medicine is also called phytomedicine or phytotherapy.

Prevalence of use

The use of herbal remedies is more prevalent in people with chronic diseases, such as cancer, diabetes, asthma and end-stage kidney disease. Multiple factors such as gender, age, ethnicity, education and social class are also shown to have association with prevalence of herbal remedies use.

medicines

What are the forms of herbal supplements?

There are various forms of herbal products and can be used internally or externally. Some of the forms of herbal products include:

• Liquid extracts.

• Teas.

• Tablets and capsules.

• Bath salts.

• Oils.

• Ointments.

What are some common herbal supplements and their uses?

There are many common herbal supplements that have several different uses. The following are:

• Aloe Vera: One of the most common herbal supplements is aloe vera. Used topically for burns, psoriasis and osteoarthritis. Used internally in the oral form for digestive issues such as gastritis or constipation and externally to soothe irritated skin and burns. When taken internally, it can lower levels of potassium, so avoid aloe if you take diuretics and digoxin.

• Arnica (Arnica montana): Applied externally to reduce pain from bruising, aches, and sprains, and to relieve constipation. Arnica is potentially toxic to the heart and can raise blood pressure if taken internally. Thus, arnica is considered to be one of the common herbal supplements.

• Black cohosh: It is commonly named as Cimicifuga racemose. Used to treat hot flashes, night sweats, vaginal dryness and menopausal symptoms. Can lower blood pressure when taken at high doses or with antihypertensive medications.

• Beta carotene: Antioxidant thought to fight free radicals (substances that harm the body when left unchecked). Using vitamin supplements that contain beta carotene should be actively discouraged because of an increased risk of death. Choose supplements with mixed carotenes. Thus, beta carotene is considered to be one of the common herbal supplements.

• Chamomile: It is used to treat sleeplessness, anxiety, upset stomach, gas and diarrhea. It is also used topically for skin conditions. Caution in people with ragweed allergy. Chamomile is a flowering plant that also happens to be one of the most popular herbal medicines in the world. The flowers are most often used to make tea, but the leaves may also be dried and used for making medicinal extracts, or topical compresses. This herb packs over 100 active compounds, many of which are thought to contribute to its numerous benefits. Several test-tube and animal studies have demonstrated anti-inflammatory, antimicrobial, and antioxidant activity, though insufficient human research is available. Yet, a few small human studies suggest that chamomile treats emotional disturbances as well as cramping associated with premenstrual syndrome (PMS), and pain and inflammation linked to osteoarthritis. You can find it in most grocery stores or order it online. Thus, chamomile is considered to be one of the common herbal supplements.

• Echinacea: Echinacea, or coneflower, is a flowering plant and popular herbal remedy. Originally from North America, it has long been used in Native American practices to treat a variety of ailments, including wounds, burns, toothaches, sore throat, and upset stomach. Most parts of the plant, including the leaves, petals, and roots, can be used medicinally — though many people believe the roots have the strongest effect. Echinacea is usually taken as a tea or supplement but can also be applied topically. Today, it’s primarily used to treat or prevent the common cold, though the science behind this isn’t particularly strong. Though insufficient data exists to evaluate the long-term effects of this herb, short-term use is generally considered safe. That said, side effects like nausea, stomach pain, and skin rash have occasionally been reported. Thus, echinachea is considered to be one of the common herbal supplements.

• Elderberry: Elderberry is an ancient herbal medicine typically made from the cooked fruit of the Sambucus nigra plant. It has long been used to relieve headaches, nerve pain, toothaches, colds, viral infections, and constipation. Today, it’s primarily marketed as a treatment for symptoms associated with the flu and common cold. Elderberry is available as a syrup or lozenge, although there’s no standard dosage. Some people prefer to make their own syrup or tea by cooking elderberries with other ingredients, such as honey and ginger. Its plant compounds have antioxidant, antimicrobial, and antiviral properties, but human research is lacking. While a few small human studies indicate that elderberry shortens the duration of flu infections, larger studies are needed to determine if it’s any more effective than conventional antiviral therapies. Short-term use is considered safe, but the unripe or raw fruit is toxic and may cause symptoms like nausea, vomiting, and diarrhea. Thus, elderberry is considered to be one of the common herbal supplements.

• Ginko: it is scientifically known as Ginkgo biloba. Used to treat memory problems and tinnitus (ringing in the ears). Can be used along with the antidepressant selective serotonin reuptake inhibitors (SSRIs) to enhance sex drive and sexual performance in people who have side effects with antidepressant medications. Caution in people taking blood thinners. To prevent altitude sickness. It is derived from the maidenhair tree. Native to China, ginkgo has been used in traditional Chinese medicine for thousands of years and remains a top-selling herbal supplement today. It contains a variety of potent antioxidants that are thought to provide several benefits. The seeds and leaves are traditionally used to make teas and tinctures, but most modern applications use leaf extract. Some people also enjoy eating the raw fruit and toasted seeds. However, the seeds are mildly toxic and should only be eaten in small quantities, if at all. Although it’s well tolerated by most people, possible side effects include headache, heart palpitations, digestive issues, skin reactions, and an increased risk of bleeding. Thus, ginko is considered to be one of the common herbal supplements.

• Ginger: Ginger is a commonplace ingredient and herbal medicine. You can eat it fresh or dried, though its main medicinal forms are as a tea or capsule. Much like turmeric, ginger is a rhizome, or stem that grows underground. It contains a variety of beneficial compounds and has long been used in traditional and folk practices to treat colds, nausea, migraines, and high blood pressure. Its best-established modern use is for relieving nausea associated with pregnancy, chemotherapy, and medical operations. Ginger is very well tolerated. Negative side effects are rare, but large doses may cause a mild case of heartburn or diarrhea. Thus, ginger is considered to be one of the common herbal supplements.

• Ginseng: Ginseng is a medicinal plant whose roots are usually steeped to make a tea or dried to make a powder. It’s frequently utilized in traditional Chinese medicine to reduce inflammation and boost immunity, brain function, and energy levels. Several varieties exist, but the two most popular are the Asian and American types — Panax ginseng and Panax quinquefolius, respectively. American ginseng is thought to cultivate relaxation, while Asian ginseng is considered more stimulating. Although ginseng has been used for centuries, modern research supporting its efficacy is lacking. Several test-tube and animal studies suggest that its unique compounds, called ginsenosides, boast neuroprotective, anticancer, antidiabetes, and immune-supporting properties. Nonetheless, human research is needed. Short-term use is considered relatively safe, but ginseng’s long-term safety remains unclear. Potential side effects include headaches, poor sleep, and digestive issues.

• Goldensneal: This remedy, which has a long history among Native Americans, is used for constipation and colds, eye infections, and even cancer. But goldenseal can affect your heart’s rhythm, affect blood clotting, and lower your blood pressure. You should check with your doctor first if you have blood clotting problems or are on blood pressure medicines.

• Kava: This is supposed to help with anxiety and insomnia. But it may cause liver damage, like hepatitis. So you shouldn't take it if you have liver or kidney problems. Kava also can be dangerous if you drink alcohol or take other drugs that make you sleepy.

• Peppermint oil: used to treat digestion problems such as nausea, indigestion, stomach problems and bowel conditions.

• Soy: used to treat menopausal symptoms, memory problems and high cholesterol levels. Organic, whole soy food is preferable to soy supplements and processed soy foods like soy hot dogs.

• St. John’s Wort: used to treat depression, anxiety and sleep disorders. NOTE: This herb has many other drug and herb interactions. Consult your healthcare provider before starting this supplement. St. John’s wort (SJW) is an herbal medicine derived from the flowering plant Hypericum perforatum. Its small, yellow flowers are commonly used to make teas, capsules, or extracts. Its use can be traced back to ancient Greece, and SJW is still frequently prescribed by medical professionals in parts of Europe. Historically, it was utilized to aid wound healing and alleviate insomnia, depression, and various kidney and lung diseases. Today, it’s largely prescribed to treat mild to moderate depression. SJW has relatively few side effects but may cause allergic reactions, dizziness, confusion, dry mouth, and increased light sensitivity. Particular drug interactions could be fatal, so if you take any prescription medications, consult your healthcare provider prior to using SJW. Thus, St. John’s Wort is considered to be one of the common herbal supplements.

• Turmeric: Turmeric (Curcuma longa) is an herb that belongs to the ginger family. Used for thousands of years in cooking and medicine alike, it has recently garnered attention for its potent anti-inflammatory properties. Curcumin is the major active compound in turmeric. It may treat a host of conditions, including chronic inflammation, pain, metabolic syndrome, and anxiety. Both turmeric and curcumin supplements are widely considered safe, but very high doses may lead to diarrhea, headache, or skin irritation.

• Valerian: Sometimes referred to as “nature’s Valium,” valerian is a flowering plant whose roots are thought to induce tranquility and a sense of calm. Valerian root may be dried and consumed in capsule form or steeped to make tea. Its use can be traced back to ancient Greece and Rome, where it was taken to relieve restlessness, tremors, headaches, and heart palpitations. Today, it’s most often utilized to treat insomnia and anxiety. Valerian is relatively safe, though it may cause mild side effects like headaches and digestive issues. You shouldn’t take it if you’re on any other sedatives due to the risk of compounding effects, such as excessive malaise and drowsiness.

types-of-herbal-supplements

Herbal products that can hurt

Here are a few herbal products known to cause adverse reactions with certain prescription drugs:

• Fenugreek. People with diabetes should watch out for this herb, Gorin noted. “It may lower blood sugar levels too much and may interact with some diabetes medications,” she said. “And if you’re taking an anticoagulant (which helps to delay blood clotting) such as warfarin, this could be a dangerous combination because fenugreek may also slow blood clotting.”

• Melatonin. Don’t mix this with sedatives such as benzodiazepines, narcotics, and some antidepressants. Melatonin makes you tired while sedative drugs also make you sleepy. “You should also avoid taking melatonin if you take anticoagulant medications like Coumadin, as melatonin may slow blood clotting so you may increase your chance of bleeding and bruising,”.

• St. John’s wort. Don’t mix it with antidepressants, as it could cause the serotonin in your body to rise too much, which can lead to seizures and muscle rigidity. Don’t take it if you’re on birth control or blood thinners either, researchers said.

• Gingko biloba. Watch out if you take this with fish oil supplements, ibuprofen, naproxen, or aspirin. Though the medications are sold over the counter, they are all blood thinners and can increase the risk of bleeding. Ginkgo biloba slows blood clotting and may also cause bleeding.

• Echinacea. Be cautious if you take this while on prednisone. Echinacea stimulates the immune system, while the steroid prednisone decreases the immune system, so they interfere with each other.

• Schisandra. According to the National Center for Complementary and Integrative Health, if you take this herb and a drug, the amount of the drug in your body may increase, and the drug’s effects can become too strong.

How popular are herbal supplements?

Herbal supplements are widely used in the United States. A study by the Centers for Disease Control states that more than half of the people in the country take a daily herbal supplement.

• Up to 80% of the population in Africa uses traditional medicine as primary health care.

• Some researchers trained in both Western and traditional Chinese medicine have attempted to deconstruct ancient medical texts in the light of modern science. In 1972, Tu Youyou, a pharmaceutical chemist, extracted the anti-malarial drug artemisinin from sweet wormwood, a traditional Chinese treatment for intermittent fevers.

• In India, Ayurvedic medicine has quite complex formulas with 30 or more ingredients, including a sizable number of ingredients that have undergone "alchemical processing", chosen to balance dosha. In Ladakh, Lahul-Spiti and Tibet, the Tibetan Medical System is prevalent, also called the 'Amichi Medical System'. Over 337 species of medicinal plants have been documented by C.P. Kala. Those are used by Amchis, the practitioners of this medical system. The Indian book, Vedas, mentions treatment of diseases with plants.

What is paraherbalism?

Paraherbalism is the pseudoscientific use of extracts of plant or animal origin as supposed medicines or health-promoting agents. Phytotherapy differs from plant-derived medicines in standard pharmacology because it does not isolate and standardize the compounds from a given plant believed to be biologically active. It relies on the false belief that preserving the complexity of substances from a given plant with less processing is safer and potentially more effective, for which there is no evidence either condition applies.

Phytochemical researcher Varro Eugene Tyler described paraherbalism as "faulty or inferior herbalism based on pseudoscience", using scientific terminology but lacking scientific evidence for safety and efficacy. Tyler listed ten fallacies that distinguished herbalism from paraherbalism, including claims that there is a conspiracy to suppress safe and effective herbs, herbs can not cause harm, that whole herbs are more effective than molecules isolated from the plants, herbs are superior to drugs, the doctrine of signatures (the belief that the shape of the plant indicates its function) is valid, dilution of substances increases their potency (a doctrine of the pseudoscience of homeopathy), astrological alignments are significant, animal testing is not appropriate to indicate human effects, anecdotal evidence is an effective means of proving a substance works and herbs were created by God to cure disease. Tyler suggests that none of these beliefs have any basis in fact.

Are herbal supplements regulated?

Herbal supplements are regulated by the U.S. Food and Drug Administration (FDA), but they are not strictly regulated as prescription or over-the-counter (OTC) drugs. They fall under a category called dietary supplements.

Dietary supplement makers don't need FDA approval to sell their products, but they must:

• Ensure that their supplements are free of contaminants and that they're accurately labeled.

• Have research to support claims that a product addresses a nutrient deficiency or supports health, and include a disclaimer that the FDA hasn't evaluated the claim.

• Avoid making specific medical claims. For example, a company can't say: "This herb reduces the frequency of urination due to an enlarged prostate." The FDA can take action against companies that make false or unsupported claims to sell their supplements.

These regulations provide assurance that:

• Herbal supplements meet certain quality standards

• The FDA can remove dangerous products from the market

However, the rules don't guarantee that herbal supplements are safe for anyone to use.

Can herbal supplements help people with cancer?

The practice of using herbal supplements dates back thousands of years. Today, there is a renewal in the use of herbal supplements among Americans. But herbal supplements are not for everyone. In fact, some herbal products may cause problems for people getting cancer treatment. Because they are not subject to close scrutiny by the FDA or other governing agencies, the use of herbal supplements is controversial. Don't take any herbal supplements without first talking with your healthcare provider.

uses-of-herbal-supplements

Can I Take Supplements If I Am on Medicine?

It depends. Herbal supplements may change the way your body reacts to medicine or over-the-counter products. For example, St. John’s wort reduces the body’s ability to process some medicines. This means you will get a smaller amount than what you need. This is why it is important to get your doctor’s approval before using herbal supplements.

Although some herbal supplements may be safe for healthy people, they can make some existing health conditions worse, even if you are not taking medicine for the condition. Some do. Many people use herbal supplements without problems, and report they feel better. If you want to try herbal supplements, you should discuss it with your doctor first. Products labeled “natural” are not necessarily safe. In the wrong dose or mixed with other medicines, some herbal products can be dangerous.

Who shouldn't use herbal supplements?

Herbal products can pose unexpected risks because many supplements contain active ingredients that have strong effects in the body. For example, taking a combination of herbal supplements or using supplements together with prescription drugs could lead to harmful, even life-threatening results.

It's especially important to talk with your doctor about herbal supplements if:

• You're taking prescription or OTC medications. Some herbs can cause serious side effects when mixed with medications such as aspirin, blood thinners and blood pressure medications.

• You're pregnant or breastfeeding. Medications that may be safe for you as an adult may be harmful to your baby.

• You're having surgery. Many herbal supplements can affect the success of surgery. Some may decrease the effectiveness of anesthesia or cause dangerous complications, such as bleeding.

• You're younger than 18 or older than 65. Few herbal supplements have been tested in children or have established safe doses for children. And older adults may metabolize medications differently.

Can herbal health products or supplements change the way OTC or prescription medicines work?

Yes. Herbal health products or supplements can affect the way the body processes drugs. When this happens, your medicine may not work the way it should. For example, St. John’s wort reduces the amount of certain drugs absorbed by the body. When this happens, the drugs may not be absorbed at high enough levels to help the health conditions for which they are prescribed. This can cause serious problems. If you take any OTC or prescription medicines, talk to your doctor before taking any type of herbal health product or supplement.

Questions to ask your doctor

• How do I know if I need to take an herbal supplement?

• How do I know how much of an herbal supplement to take?

• What herbal supplements might be beneficial for me?

• Can any herbal supplements interfere with any of my prescriptions?

• Do herbal supplements cause side effects?

• Is there anyone who should avoid taking herbal supplements?

• How do I choose the right herbal supplements?

• Can I take herbal supplements if I’m pregnant or nursing?

• What herbal supplements are safe for children?

How do you know what's in herbal supplements?

The FDA requires that supplement labels include this information:

• Name of the supplement

• Name and address of the manufacturer or distributor

• Complete list of ingredients

• Serving size, amount and active ingredient

If you don't understand something on the label, ask your doctor or pharmacist to explain.

An easy way to compare ingredients in products is to use the Dietary Supplement Label Database, which is available on the website for the U.S. National Institute of Health. You can look up products by brand name, use, active ingredient or manufacturer.

How can I safely store herbal health products and supplements?

Store all herbal health products and supplements up and away, out of reach and sight of young children. Do not store them in a place that is hot and humid (for example, a bathroom or bathroom cabinet). Keeping these products in a cool, dry place will help keep them from becoming less effective before their expiration date.

How do you know if supplement claims are true?

Manufacturers of herbal supplements are responsible for ensuring that the claims they make about their products aren't false or misleading and that they're backed up by adequate evidence. But they aren't required to submit this evidence to the FDA.

So be a smart consumer. Don't just rely on a product's marketing. Look for objective, research-based information to evaluate a product's claims.

To get reliable information about a supplement:

• Ask your doctor or pharmacist: Even if they don't know about a specific supplement, they may be able to point you to the latest medical guidance about its uses and risks.

• Look for scientific research findings: Two good sources in the U.S. are the National Center for Complementary and Integrative Health, and the Office of Dietary Supplements. Both have websites to help consumers make informed choices about dietary supplements.

• Contact the manufacturer: If you have questions about a specific product, call the manufacturer or distributor. Ask to talk with someone who can answer questions, such as what data the company has to substantiate product claims.

Safety tips for using herbal supplements

If you've done your homework and plan to try an herbal supplement, play it safe with these tips:

• Follow instructions. Don't exceed recommended dosages or take for longer than recommended.

• Keep track of what you take. Make a note of what you take — and how much for how long — and how it affects you. Stop taking the supplement if it isn't effective or doesn't meet your goals for taking it.

• Choose your brand wisely. Stick to brands that have been tested by independent sources, such as ConsumerLab.com, U.S. Pharmacopeia and NSF International.

• Check alerts and advisories. The FDA maintains a list of supplements that are under regulatory review or that have been reported to cause adverse effects. Check the FDA website periodically for updates.

Is it safe to take herbal health products and supplements if I have health problems?

Herbal health products and supplements may not be safe if you have certain health problems, are pregnant, or are breastfeeding. Children and older adults also may be at increased risk of adverse effects from these products, because their bodies process the ingredients differently.

If you are going to have surgery, tell your doctor about any herbal health products and supplements you use. These products can cause problems with surgery, including bleeding problems with anesthesia. You should stop using herbal health products or supplements at least two weeks before surgery, or sooner if your doctor recommends it.

Whether you have a health problem or not, it is always best to talk to your family doctor before taking any herbal health product or supplement.

health-problems



The above essentials are available with AFD SHIELD.
AFD Shield capsule is a combination of 12 natural ingredients among which are Algal DHA, Ashwagandha, Curcumin and Spirullina. AFD Shield reduces TG, increases HDL and improves age related cognitive decline. It also reduces stress and anxiety and performs anti-aging activity.Moreover, it also enhances the immunomodulatory activity, improves immunity and reduces inflammation and oxidative stress. Nutralogicx: AFD SHIELD

हर्बल अनुपूरक

एक नजर में:

  1. हर्बल सप्लीमेंट क्या हैं?

  2. उपयोग की व्यापकता

  3. हर्बल सप्लीमेंट्स के रूप क्या हैं?

  4. कुछ सामान्य हर्बल सप्लीमेंट्स और उनके उपयोग क्या हैं?

  5. हर्बल उत्पाद जो चोट पहुंचा सकते हैं

  6. हर्बल सप्लीमेंट कितने लोकप्रिय हैं?

  7. पैराहर्बलिज्म क्या है?

  8. क्या हर्बल सप्लीमेंट्स को विनियमित किया जाता है?

  9. क्या हर्बल सप्लीमेंट कैंसर से पीड़ित लोगों की मदद कर सकते हैं?

  10. अगर मैं दवा पर हूँ तो क्या मैं पूरक ले सकता हूँ?

  11. हर्बल सप्लीमेंट का उपयोग किसे नहीं करना चाहिए?

  12. क्या हर्बल स्वास्थ्य उत्पाद या पूरक ओटीसी या प्रिस्क्रिप्शन दवाओं के काम करने के तरीके को बदल सकते हैं?

  13. अपने डॉक्टर से पूछने के लिए प्रश्न

  14. आप कैसे जानते हैं कि हर्बल सप्लीमेंट्स में क्या है?

  15. मैं हर्बल स्वास्थ्य उत्पादों और सप्लीमेंट्स को सुरक्षित रूप से कैसे स्टोर कर सकता हूं?

  16. आपको कैसे पता चलेगा कि पूरक दावे सही हैं?

  17. हर्बल सप्लीमेंट्स का उपयोग करने के लिए सुरक्षा युक्तियाँ

  18. अगर मुझे स्वास्थ्य समस्याएं हैं तो क्या हर्बल स्वास्थ्य उत्पादों और पूरक आहार लेना सुरक्षित है?


हर्बल सप्लीमेंट क्या हैं?

हर्बल उपचार कोई नई बात नहीं है - पौधों का उपयोग हजारों वर्षों से औषधीय प्रयोजनों के लिए किया जाता रहा है।

लेकिन हर्बल सप्लीमेंट्स को आम तौर पर एक ही वैज्ञानिक जांच नहीं मिली है और दवाओं के रूप में सख्ती से विनियमित नहीं हैं। फिर भी जड़ी-बूटियों और हर्बल उत्पादों - जिनमें "प्राकृतिक" के रूप में लेबल किया गया है - शरीर में मजबूत प्रभाव डाल सकते हैं।

खरीदने से पहले हर्बल सप्लीमेंट के संभावित लाभों और दुष्प्रभावों के बारे में जानना महत्वपूर्ण है। अपने डॉक्टर से बात करना सुनिश्चित करें, खासकर यदि आप कोई दवा लेते हैं, पुरानी स्वास्थ्य समस्या है, या गर्भवती हैं या स्तनपान कर रही हैं।

हर्बल सप्लीमेंट पौधों और/या उनके तेल, जड़ों, बीजों, जामुन या फूलों से प्राप्त उत्पाद हैं। कई सदियों से हर्बल सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल किया जाता रहा है। ऐसा माना जाता है कि उनके पास उपचार गुण हैं।

हर्बल सप्लीमेंट ऐसे उत्पाद हैं जो:

• अपने आहार को पूरक करें (कुछ जोड़ें और बदलें नहीं);

• एक या अधिक अवयव होते हैं;

• गोलियों, कैप्सूल या तरल के रूप में मुंह से लिया जाता है; तथा

• स्पष्ट रूप से आहार अनुपूरक के रूप में लेबल किए गए हैं।

हर्बल सप्लीमेंट निर्माताओं को दवा निर्माताओं की तरह अपने उत्पादों की सुरक्षा साबित करने की आवश्यकता नहीं है। खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) उन्हें आपको यह बताने देता है कि उनके उत्पाद किन स्थितियों में मदद कर सकते हैं - जिन्हें "दावा" कहा जाता है - यदि उनके पास दावे को साबित करने के लिए जानकारी है। एक बार जब कोई उत्पाद बाजार में आ जाता है, तो एफडीए निर्माता के दावों, पैकेज आवेषण और उपभोक्ताओं द्वारा रिपोर्ट की जाने वाली किसी भी समस्या की निगरानी करता है। FDA ने झूठे या भ्रामक दावे करने या उत्पाद असुरक्षित होने के कारण कई निर्माताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की है।

हर्बल मेडिसिन (हर्बलिज्म भी) फार्माकोग्नॉसी और औषधीय पौधों के उपयोग का अध्ययन है, जो पारंपरिक चिकित्सा का आधार है। २१वीं सदी के वनस्पतिवाद में प्रयुक्त पौधों की सुरक्षा और प्रभावकारिता के लिए सीमित वैज्ञानिक प्रमाण हैं, जो आमतौर पर शुद्धता या खुराक के लिए मानक प्रदान नहीं करते हैं। हर्बल दवा के दायरे में आमतौर पर कवक और मधुमक्खी उत्पादों के साथ-साथ खनिज, गोले और कुछ जानवरों के हिस्से शामिल होते हैं। हर्बल दवा को फाइटोमेडिसिन या फाइटोथेरेपी भी कहा जाता है।

उपयोग की व्यापकता

कैंसर, मधुमेह, अस्थमा और अंतिम चरण के गुर्दे की बीमारी जैसी पुरानी बीमारियों वाले लोगों में हर्बल उपचार का उपयोग अधिक प्रचलित है। लिंग, आयु, जातीयता, शिक्षा और सामाजिक वर्ग जैसे कई कारकों को भी हर्बल उपचार के उपयोग के प्रसार के साथ जोड़ा गया है।

medicines

हर्बल सप्लीमेंट्स के रूप क्या हैं?

हर्बल उत्पादों के विभिन्न रूप हैं और इन्हें आंतरिक या बाह्य रूप से उपयोग किया जा सकता है। हर्बल उत्पादों के कुछ रूपों में शामिल हैं:

• तरल अर्क।

• चाय।

• गोलियाँ और कैप्सूल।

• स्नान लवण।

• तेल।

• मलहम।

कुछ सामान्य हर्बल सप्लीमेंट्स और उनके उपयोग क्या हैं?

कई सामान्य हर्बल सप्लीमेंट हैं जिनके कई अलग-अलग उपयोग हैं। निम्नलिखित हैं:

• एलोवेरा: एलोवेरा सबसे आम हर्बल सप्लीमेंट में से एक है। जलने, सोरायसिस और पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस के लिए शीर्ष रूप से उपयोग किया जाता है। जठरांत्र या कब्ज जैसे पाचन मुद्दों के लिए और बाहरी रूप से चिढ़ त्वचा और जलन को शांत करने के लिए आंतरिक रूप से मौखिक रूप में उपयोग किया जाता है। जब आंतरिक रूप से लिया जाता है, तो यह पोटेशियम के स्तर को कम कर सकता है, इसलिए यदि आप मूत्रवर्धक और डिगॉक्सिन लेते हैं तो मुसब्बर से बचें।

• अर्निका (अर्निका मोंटाना): चोट, दर्द और मोच के दर्द को कम करने और कब्ज दूर करने के लिए बाहरी रूप से लगाया जाता है। अर्निका हृदय के लिए संभावित रूप से विषैला होता है और यदि आंतरिक रूप से लिया जाए तो रक्तचाप बढ़ा सकता है। इस प्रकार, अर्निका को सामान्य हर्बल सप्लीमेंट्स में से एक माना जाता है।

• काला कोहोश: इसे आमतौर पर सिमिसिफुगा रेसमोज के नाम से जाना जाता है। गर्म चमक, रात को पसीना, योनि का सूखापन और रजोनिवृत्ति के लक्षणों का इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है। उच्च खुराक या एंटीहाइपरटेन्सिव दवाओं के साथ लेने पर रक्तचाप कम हो सकता है।

• बीटा कैरोटीन: एंटीऑक्सिडेंट ने मुक्त कणों से लड़ने के लिए सोचा (ऐसे पदार्थ जो अनियंत्रित रहने पर शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं)। मृत्यु के बढ़ते जोखिम के कारण बीटा कैरोटीन युक्त विटामिन की खुराक का उपयोग सक्रिय रूप से हतोत्साहित किया जाना चाहिए। मिश्रित कैरोटीन के साथ पूरक चुनें। इस प्रकार, बीटा कैरोटीन को सामान्य हर्बल सप्लीमेंट्स में से एक माना जाता है।

• कैमोमाइल: इसका उपयोग नींद न आना, चिंता, पेट खराब, गैस और दस्त के इलाज के लिए किया जाता है। यह त्वचा की स्थिति के लिए भी शीर्ष रूप से उपयोग किया जाता है। रैगवीड एलर्जी वाले लोगों में सावधानी। कैमोमाइल एक फूल वाला पौधा है जो दुनिया में सबसे लोकप्रिय हर्बल दवाओं में से एक है। फूलों का उपयोग अक्सर चाय बनाने के लिए किया जाता है, लेकिन पत्तियों को सुखाया भी जा सकता है और औषधीय अर्क, या सामयिक संपीड़ित बनाने के लिए उपयोग किया जा सकता है। यह जड़ी बूटी 100 से अधिक सक्रिय यौगिकों को पैक करती है, जिनमें से कई को इसके कई लाभों में योगदान करने के लिए माना जाता है। कई टेस्ट-ट्यूब और जानवरों के अध्ययन ने विरोधी भड़काऊ, रोगाणुरोधी और एंटीऑक्सीडेंट गतिविधि का प्रदर्शन किया है, हालांकि अपर्याप्त मानव शोध उपलब्ध है। फिर भी, कुछ छोटे मानव अध्ययनों से पता चलता है कि कैमोमाइल भावनात्मक गड़बड़ी के साथ-साथ प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम (पीएमएस) से जुड़ी ऐंठन का इलाज करता है, और दर्द और सूजन पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस से जुड़ा हुआ है। आप इसे अधिकांश किराने की दुकानों में पा सकते हैं या इसे ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं। इस प्रकार, कैमोमाइल को सामान्य हर्बल सप्लीमेंट्स में से एक माना जाता है।

• इचिनेशिया: इचिनेशिया, या कॉनफ्लॉवर, एक फूल वाला पौधा और लोकप्रिय हर्बल उपचार है। मूल रूप से उत्तरी अमेरिका से, यह लंबे समय से मूल अमेरिकी प्रथाओं में घाव, जलन, दांत दर्द, गले में खराश और पेट खराब सहित विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। पत्तियों, पंखुड़ियों और जड़ों सहित पौधे के अधिकांश हिस्सों का औषधीय रूप से उपयोग किया जा सकता है - हालांकि बहुत से लोग मानते हैं कि जड़ों का सबसे मजबूत प्रभाव होता है। Echinacea को आमतौर पर चाय या पूरक के रूप में लिया जाता है, लेकिन इसे शीर्ष पर भी लगाया जा सकता है। आज, इसका मुख्य रूप से सामान्य सर्दी के इलाज या रोकथाम के लिए उपयोग किया जाता है, हालांकि इसके पीछे का विज्ञान विशेष रूप से मजबूत नहीं है। हालांकि इस जड़ी बूटी के दीर्घकालिक प्रभावों का मूल्यांकन करने के लिए अपर्याप्त डेटा मौजूद है, लेकिन आमतौर पर अल्पकालिक उपयोग को सुरक्षित माना जाता है। उस ने कहा, मतली, पेट दर्द और त्वचा पर लाल चकत्ते जैसे दुष्प्रभाव कभी-कभी बताए गए हैं।

• एल्डरबेरी: एल्डरबेरी एक प्राचीन हर्बल दवा है जो आम तौर पर सांबुकस नाइग्रा पौधे के पके हुए फल से बनाई जाती है। यह लंबे समय से सिरदर्द, तंत्रिका दर्द, दांत दर्द, सर्दी, वायरल संक्रमण और कब्ज को दूर करने के लिए उपयोग किया जाता है। आज, यह मुख्य रूप से फ्लू और सामान्य सर्दी से जुड़े लक्षणों के उपचार के रूप में विपणन किया जाता है। एल्डरबेरी सिरप या लोजेंज के रूप में उपलब्ध है, हालांकि इसकी कोई मानक खुराक नहीं है। कुछ लोग बड़बेरी को शहद और अदरक जैसी अन्य सामग्री के साथ पकाकर अपना स्वयं का सिरप या चाय बनाना पसंद करते हैं। इसके पौधों के यौगिकों में एंटीऑक्सिडेंट, रोगाणुरोधी और एंटीवायरल गुण होते हैं, लेकिन मानव अनुसंधान की कमी है। जबकि कुछ छोटे मानव अध्ययनों से संकेत मिलता है कि बल्डबेरी फ्लू के संक्रमण की अवधि को कम करता है, यह निर्धारित करने के लिए बड़े अध्ययन की आवश्यकता है कि क्या यह पारंपरिक एंटीवायरल उपचारों की तुलना में अधिक प्रभावी है। अल्पकालिक उपयोग सुरक्षित माना जाता है, लेकिन कच्चा या कच्चा फल जहरीला होता है और इससे मतली, उल्टी और दस्त जैसे लक्षण हो सकते हैं। इस प्रकार, बड़बेरी को सामान्य हर्बल सप्लीमेंट्स में से एक माना जाता है।

• जिन्को: इसे वैज्ञानिक रूप से जिन्को बाइलोबा के नाम से जाना जाता है। स्मृति समस्याओं और टिनिटस (कानों में बजना) के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। एंटीडिप्रेसेंट दवाओं के साथ साइड इफेक्ट वाले लोगों में सेक्स ड्राइव और यौन प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए एंटीडिप्रेसेंट चयनात्मक सेरोटोनिन रीपटेक इनहिबिटर (एसएसआरआई) के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है। ब्लड थिनर लेने वाले लोगों में सावधानी। ऊंचाई की बीमारी को रोकने के लिए। यह युवती के पेड़ से प्राप्त होता है। चीन के मूल निवासी, जिन्कगो का उपयोग पारंपरिक चीनी चिकित्सा में हजारों वर्षों से किया जाता रहा है और आज भी यह सबसे अधिक बिकने वाला हर्बल सप्लीमेंट बना हुआ है। इसमें कई प्रकार के शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जिन्हें कई लाभ प्रदान करने के लिए माना जाता है। चाय और टिंचर बनाने के लिए बीज और पत्तियों का पारंपरिक रूप से उपयोग किया जाता है, लेकिन अधिकांश आधुनिक अनुप्रयोगों में पत्ती के अर्क का उपयोग किया जाता है। कुछ लोगों को कच्चे फल और भुने हुए बीज खाने में भी मजा आता है। हालाँकि, बीज हल्के विषैले होते हैं और यदि हो तो कम मात्रा में ही खाने चाहिए। हालांकि यह ज्यादातर लोगों द्वारा अच्छी तरह से सहन किया जाता है, संभावित दुष्प्रभावों में सिरदर्द, दिल की धड़कन, पाचन संबंधी समस्याएं, त्वचा की प्रतिक्रियाएं और रक्तस्राव का खतरा बढ़ जाता है। इस प्रकार, जिन्को को सामान्य हर्बल सप्लीमेंट्स में से एक माना जाता है।

• अदरक: अदरक एक सामान्य सामग्री और हर्बल औषधि है। आप इसे ताजा या सुखाकर खा सकते हैं, हालांकि इसके मुख्य औषधीय रूप चाय या कैप्सूल के रूप में हैं। हल्दी की तरह, अदरक एक प्रकंद या तना है जो भूमिगत रूप से बढ़ता है। इसमें विभिन्न प्रकार के लाभकारी यौगिक होते हैं और लंबे समय से पारंपरिक और लोक प्रथाओं में सर्दी, मतली, माइग्रेन और उच्च रक्तचाप के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। इसका सबसे अच्छा स्थापित आधुनिक उपयोग गर्भावस्था, कीमोथेरेपी और चिकित्सा संचालन से जुड़ी मतली से राहत के लिए है। अदरक बहुत अच्छी तरह से सहन किया जाता है। नकारात्मक दुष्प्रभाव दुर्लभ हैं, लेकिन बड़ी खुराक से नाराज़गी या दस्त का हल्का मामला हो सकता है। इस प्रकार, अदरक को सामान्य हर्बल सप्लीमेंट्स में से एक माना जाता है।

• जिनसेंग: जिनसेंग एक औषधीय पौधा है जिसकी जड़ें आमतौर पर चाय बनाने के लिए खड़ी होती हैं या पाउडर बनाने के लिए सुखाई जाती हैं। यह अक्सर पारंपरिक चीनी चिकित्सा में सूजन को कम करने और प्रतिरक्षा, मस्तिष्क समारोह और ऊर्जा के स्तर को बढ़ावा देने के लिए उपयोग किया जाता है। कई किस्में मौजूद हैं, लेकिन दो सबसे लोकप्रिय एशियाई और अमेरिकी प्रकार हैं - पैनाक्स जिनसेंग और पैनाक्स क्विनकॉफियस, क्रमशः। अमेरिकी जिनसेंग को विश्राम की खेती करने के लिए माना जाता है, जबकि एशियाई जिनसेंग को अधिक उत्तेजक माना जाता है। यद्यपि जिनसेंग का उपयोग सदियों से किया जाता रहा है, लेकिन इसकी प्रभावकारिता का समर्थन करने वाले आधुनिक शोध की कमी है। कई टेस्ट-ट्यूब और जानवरों के अध्ययन से पता चलता है कि इसके अद्वितीय यौगिक, जिन्हें जिनसैनोसाइड्स कहा जाता है, न्यूरोप्रोटेक्टिव, एंटीकैंसर, एंटीडायबिटीज और प्रतिरक्षा-सहायक गुणों का दावा करते हैं। बहरहाल, मानव अनुसंधान की जरूरत है। अल्पकालिक उपयोग अपेक्षाकृत सुरक्षित माना जाता है, लेकिन जिनसेंग की दीर्घकालिक सुरक्षा अस्पष्ट बनी हुई है। संभावित दुष्प्रभावों में सिरदर्द, खराब नींद और पाचन संबंधी समस्याएं शामिल हैं।

• Goldensneal: यह उपाय, जिसका मूल अमेरिकियों के बीच एक लंबा इतिहास रहा है, कब्ज और सर्दी, आंखों में संक्रमण, और यहां तक ​​कि कैंसर के लिए भी प्रयोग किया जाता है। लेकिन सुनहरी सील आपके दिल की लय को प्रभावित कर सकती है, रक्त के थक्के को प्रभावित कर सकती है और आपके रक्तचाप को कम कर सकती है। यदि आपको रक्त के थक्के जमने की समस्या है या आप रक्तचाप की दवाएं ले रहे हैं तो आपको पहले अपने डॉक्टर से जांच करानी चाहिए।

• कावा: यह चिंता और अनिद्रा में मदद करने वाला माना जाता है। लेकिन इससे लीवर खराब हो सकता है, जैसे हेपेटाइटिस। इसलिए अगर आपको लीवर या किडनी की समस्या है तो आपको इसका सेवन नहीं करना चाहिए। कावा भी खतरनाक हो सकता है यदि आप शराब पीते हैं या अन्य दवाएं लेते हैं जिससे आपको नींद आती है।

• पेपरमिंट ऑयल: पाचन संबंधी समस्याओं जैसे मतली, अपच, पेट की समस्याओं और आंत्र की स्थिति के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है।

• सोया: रजोनिवृत्ति के लक्षणों, स्मृति समस्याओं और उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर का इलाज करने के लिए प्रयोग किया जाता है। सोया की खुराक और सोया हॉट डॉग जैसे संसाधित सोया खाद्य पदार्थों के लिए जैविक, संपूर्ण सोया भोजन बेहतर है।

• सेंट जॉन पौधा: अवसाद, चिंता और नींद संबंधी विकारों के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। नोट: इस जड़ी बूटी में कई अन्य दवाएं और जड़ी-बूटियां हैं। इस पूरक को शुरू करने से पहले अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से परामर्श करें। सेंट जॉन पौधा (एसजेडब्ल्यू) एक हर्बल दवा है जो फूल वाले पौधे हाइपरिकम पेरफोराटम से प्राप्त होती है। इसके छोटे, पीले फूल आमतौर पर चाय, कैप्सूल या अर्क बनाने के लिए उपयोग किए जाते हैं। इसका उपयोग प्राचीन ग्रीस में वापस देखा जा सकता है, और एसजेडब्ल्यू अभी भी यूरोप के कुछ हिस्सों में चिकित्सा पेशेवरों द्वारा अक्सर निर्धारित किया जाता है। ऐतिहासिक रूप से, इसका उपयोग घाव भरने में सहायता और अनिद्रा, अवसाद, और विभिन्न गुर्दे और फेफड़ों की बीमारियों को कम करने के लिए किया जाता था। आज, यह बड़े पैमाने पर हल्के से मध्यम अवसाद के इलाज के लिए निर्धारित है। SJW के अपेक्षाकृत कम दुष्प्रभाव होते हैं लेकिन इससे एलर्जी, चक्कर आना, भ्रम, शुष्क मुँह और प्रकाश संवेदनशीलता में वृद्धि हो सकती है। विशेष रूप से दवा पारस्परिक क्रिया घातक हो सकती है, इसलिए यदि आप कोई डॉक्टर के पर्चे की दवाएँ लेते हैं, तो SJW का उपयोग करने से पहले अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से परामर्श करें। इस प्रकार, सेंट जॉन्स वॉर्ट को सामान्य हर्बल सप्लीमेंट्स में से एक माना जाता है।

• हल्दी: हल्दी (करकुमा लोंगा) एक जड़ी बूटी है जो अदरक परिवार से संबंधित है। खाना पकाने और दवा में समान रूप से हजारों वर्षों से उपयोग किया जाता है, इसने हाल ही में अपने शक्तिशाली विरोधी भड़काऊ गुणों के लिए ध्यान आकर्षित किया है। हल्दी में करक्यूमिन प्रमुख सक्रिय यौगिक है। यह पुरानी सूजन, दर्द, चयापचय सिंड्रोम और चिंता सहित कई स्थितियों का उपचार कर सकता है। हल्दी और करक्यूमिन दोनों की खुराक व्यापक रूप से सुरक्षित मानी जाती है, लेकिन बहुत अधिक खुराक से दस्त, सिरदर्द या त्वचा में जलन हो सकती है।

• वेलेरियन: कभी-कभी "प्रकृति का वैलियम" कहा जाता है, वेलेरियन एक फूल वाला पौधा है जिसकी जड़ें शांति और शांति की भावना पैदा करने के लिए सोचा जाता है। वेलेरियन जड़ को सुखाकर कैप्सूल के रूप में सेवन किया जा सकता है या चाय बनाने के लिए भिगोया जा सकता है। इसका उपयोग प्राचीन ग्रीस और रोम में वापस देखा जा सकता है, जहां इसे बेचैनी, कंपकंपी, सिरदर्द और दिल की धड़कन को दूर करने के लिए लिया गया था। आज, इसका उपयोग अक्सर अनिद्रा और चिंता के इलाज के लिए किया जाता है। वेलेरियन अपेक्षाकृत सुरक्षित है, हालांकि इससे सिरदर्द और पाचन संबंधी समस्याएं जैसे हल्के दुष्प्रभाव हो सकते हैं। यदि आप अत्यधिक अस्वस्थता और उनींदापन जैसे कंपाउंडिंग प्रभावों के जोखिम के कारण किसी अन्य शामक पर हैं तो आपको इसे नहीं लेना चाहिए।

types-of-herbal-supplements

हर्बल उत्पाद जो चोट पहुंचा सकते हैं

यहाँ कुछ हर्बल उत्पाद दिए गए हैं जो कुछ नुस्खे वाली दवाओं के साथ प्रतिकूल प्रतिक्रिया का कारण बनते हैं:

• मेंथी: मधुमेह वाले लोगों को इस जड़ी बूटी के लिए देखना चाहिए, गोरिन ने नोट किया। "यह रक्त शर्करा के स्तर को बहुत कम कर सकता है और कुछ मधुमेह दवाओं के साथ बातचीत कर सकता है," उसने कहा। "और अगर आप एक एंटीकोआगुलेंट ले रहे हैं (जो रक्त के थक्के में देरी करने में मदद करता है) जैसे कि वार्फरिन, यह एक खतरनाक संयोजन हो सकता है क्योंकि मेथी रक्त के थक्के को भी धीमा कर सकती है।"

• मेलाटोनिन: इसे बेंज़ोडायजेपाइन, नशीले पदार्थों और कुछ एंटीडिपेंटेंट्स जैसे शामक के साथ न मिलाएं। मेलाटोनिन आपको थका देता है जबकि शामक दवाएं भी आपको सुलाती हैं। "यदि आप कौमामिन जैसी थक्कारोधी दवाएं लेते हैं तो आपको मेलाटोनिन लेने से भी बचना चाहिए, क्योंकि मेलाटोनिन रक्त के थक्के को धीमा कर सकता है जिससे आपको रक्तस्राव और चोट लगने की संभावना बढ़ सकती है,"।

• सेंट जॉन का पौधा: इसे एंटीडिपेंटेंट्स के साथ न मिलाएं, क्योंकि इससे आपके शरीर में सेरोटोनिन बहुत अधिक बढ़ सकता है, जिससे दौरे पड़ सकते हैं और मांसपेशियों में अकड़न हो सकती है। शोधकर्ताओं ने कहा कि अगर आप जन्म नियंत्रण या रक्त पतले पर हैं तो इसे न लें।

• गिंग्को बिलोबा: देखें कि क्या आप इसे मछली के तेल की खुराक, इबुप्रोफेन, नेप्रोक्सन, या एस्पिरिन के साथ लेते हैं। हालांकि दवाएं काउंटर पर बेची जाती हैं, लेकिन वे सभी खून को पतला करने वाली होती हैं और रक्तस्राव के जोखिम को बढ़ा सकती हैं। जिन्कगो बिलोबा रक्त के थक्के को धीमा कर देता है और रक्तस्राव का कारण भी बन सकता है।

• इचिनेशिया: अगर आप प्रेडनिसोन लेते समय इसे लेते हैं तो सतर्क रहें। इचिनेशिया प्रतिरक्षा प्रणाली को उत्तेजित करता है, जबकि स्टेरॉयड प्रेडनिसोन प्रतिरक्षा प्रणाली को कम करता है, इसलिए वे एक दूसरे के साथ हस्तक्षेप करते हैं।

• शिसांद्रा: पूरक और एकीकृत स्वास्थ्य के लिए राष्ट्रीय केंद्र के अनुसार, यदि आप इस जड़ी बूटी और एक दवा लेते हैं, तो आपके शरीर में दवा की मात्रा बढ़ सकती है, और दवा का प्रभाव बहुत मजबूत हो सकता है।

हर्बल सप्लीमेंट कितने लोकप्रिय हैं?

संयुक्त राज्य अमेरिका में हर्बल सप्लीमेंट्स का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के एक अध्ययन में कहा गया है कि देश में आधे से ज्यादा लोग रोजाना हर्बल सप्लीमेंट लेते हैं।

• अफ्रीका में 80% आबादी प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल के रूप में पारंपरिक चिकित्सा का उपयोग करती है।

• पश्चिमी और पारंपरिक चीनी चिकित्सा दोनों में प्रशिक्षित कुछ शोधकर्ताओं ने आधुनिक विज्ञान के आलोक में प्राचीन चिकित्सा ग्रंथों का पुनर्निर्माण करने का प्रयास किया है। 1972 में, एक फार्मास्युटिकल केमिस्ट, तू यूयू ने मलेरिया-रोधी दवा आर्टेमिसिनिन को स्वीट वर्मवुड से निकाला, जो रुक-रुक कर होने वाले बुखार के लिए एक पारंपरिक चीनी उपचार है।

• भारत में, आयुर्वेदिक चिकित्सा में 30 या अधिक अवयवों के साथ काफी जटिल सूत्र हैं, जिसमें बड़ी संख्या में ऐसे तत्व शामिल हैं, जो "रासायनिक प्रसंस्करण" से गुजरे हैं, जिन्हें दोष को संतुलित करने के लिए चुना गया है। लद्दाख, लाहुल-स्पीति और तिब्बत में, तिब्बती चिकित्सा प्रणाली प्रचलित है, जिसे 'अमीची चिकित्सा प्रणाली' भी कहा जाता है। सीपी कला द्वारा औषधीय पौधों की 337 से अधिक प्रजातियों का दस्तावेजीकरण किया गया है। उनका उपयोग इस चिकित्सा प्रणाली के चिकित्सकों अमचिस द्वारा किया जाता है। भारतीय पुस्तक वेद में पौधों से रोगों के उपचार का उल्लेख है।

पैराहर्बलिज्म क्या है?

पैराहर्बलिज्म कथित दवाओं या स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाले एजेंटों के रूप में पौधे या पशु मूल के अर्क का छद्म वैज्ञानिक उपयोग है। फाइटोथेरेपी मानक औषध विज्ञान में पौधे से प्राप्त दवाओं से भिन्न होती है क्योंकि यह जैविक रूप से सक्रिय माने जाने वाले किसी दिए गए पौधे से यौगिकों को अलग और मानकीकृत नहीं करती है। यह इस गलत धारणा पर निर्भर करता है कि किसी दिए गए संयंत्र से कम प्रसंस्करण वाले पदार्थों की जटिलता को संरक्षित करना सुरक्षित और संभावित रूप से अधिक प्रभावी है, जिसके लिए कोई सबूत नहीं है कि कोई भी शर्त लागू होती है।

फाइटोकेमिकल शोधकर्ता वरो यूजीन टायलर ने वैज्ञानिक शब्दावली का उपयोग करते हुए, लेकिन सुरक्षा और प्रभावकारिता के लिए वैज्ञानिक प्रमाण की कमी के कारण, पैराहेर्बलिज़्म को "छद्म विज्ञान पर आधारित दोषपूर्ण या अवर जड़ी-बूटी" के रूप में वर्णित किया। टायलर ने दस भ्रांतियों को सूचीबद्ध किया, जो जड़ी-बूटी को पैराहर्बलिज़्म से अलग करती हैं, जिसमें दावा है कि सुरक्षित और प्रभावी जड़ी-बूटियों को दबाने की साजिश है, जड़ी-बूटियाँ नुकसान नहीं पहुँचा सकती हैं, कि पूरी जड़ी-बूटियाँ पौधों से अलग किए गए अणुओं की तुलना में अधिक प्रभावी हैं, जड़ी-बूटियाँ दवाओं से बेहतर हैं। हस्ताक्षर का सिद्धांत (यह विश्वास कि पौधे का आकार उसके कार्य को इंगित करता है) मान्य है, पदार्थों के कमजोर पड़ने से उनकी शक्ति बढ़ जाती है (होम्योपैथी के छद्म विज्ञान का एक सिद्धांत), ज्योतिषीय संरेखण महत्वपूर्ण हैं, पशु परीक्षण मानव प्रभावों को इंगित करने के लिए उपयुक्त नहीं है, उपाख्यानात्मक साक्ष्य एक पदार्थ के काम को साबित करने का एक प्रभावी साधन है और जड़ी-बूटियों को भगवान ने बीमारी को ठीक करने के लिए बनाया था। टायलर का सुझाव है कि इनमें से किसी भी विश्वास का वास्तव में कोई आधार नहीं है।

क्या हर्बल सप्लीमेंट्स को विनियमित किया जाता है?

हर्बल सप्लीमेंट्स को यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) द्वारा नियंत्रित किया जाता है, लेकिन उन्हें नुस्खे या ओवर-द-काउंटर (ओटीसी) दवाओं के रूप में सख्ती से विनियमित नहीं किया जाता है। वे आहार अनुपूरक नामक श्रेणी के अंतर्गत आते हैं।

आहार अनुपूरक निर्माताओं को अपने उत्पादों को बेचने के लिए FDA अनुमोदन की आवश्यकता नहीं है, लेकिन उन्हें यह अवश्य करना चाहिए:

• सुनिश्चित करें कि उनके पूरक दूषित पदार्थों से मुक्त हैं और यह कि उन पर सटीक रूप से लेबल लगाया गया है।

• इस दावे का समर्थन करने के लिए अनुसंधान करें कि कोई उत्पाद पोषक तत्वों की कमी को संबोधित करता है या स्वास्थ्य का समर्थन करता है, और एक अस्वीकरण शामिल करें कि FDA ने दावे का मूल्यांकन नहीं किया है।

• विशिष्ट चिकित्सीय दावे करने से बचें। उदाहरण के लिए, एक कंपनी यह नहीं कह सकती: "यह जड़ी बूटी बढ़े हुए प्रोस्टेट के कारण पेशाब की आवृत्ति को कम करती है।" FDA उन कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई कर सकता है जो अपने सप्लीमेंट्स बेचने के झूठे या असमर्थित दावे करती हैं।

ये नियम आश्वासन देते हैं कि:

• हर्बल सप्लीमेंट कुछ गुणवत्ता मानकों को पूरा करते हैं

• एफडीए खतरनाक उत्पादों को बाजार से हटा सकता है

हालांकि, नियम इस बात की गारंटी नहीं देते हैं कि हर्बल सप्लीमेंट किसी के भी उपयोग के लिए सुरक्षित हैं।

क्या हर्बल सप्लीमेंट कैंसर से पीड़ित लोगों की मदद कर सकते हैं?

हर्बल सप्लीमेंट का उपयोग करने की प्रथा हजारों साल पहले की है। आज, अमेरिकियों के बीच हर्बल सप्लीमेंट्स के उपयोग में नवीनीकरण हो रहा है। लेकिन हर्बल सप्लीमेंट हर किसी के लिए नहीं होते हैं। दरअसल, कुछ हर्बल उत्पाद कैंसर का इलाज कराने वाले लोगों के लिए परेशानी का सबब बन सकते हैं। चूंकि वे एफडीए या अन्य शासी एजेंसियों द्वारा बारीकी से जांच के अधीन नहीं हैं, इसलिए हर्बल सप्लीमेंट्स का उपयोग विवादास्पद है। पहले अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से बात किए बिना कोई भी हर्बल सप्लीमेंट न लें।

uses-of-herbal-supplements

अगर मैं दवा पर हूँ तो क्या मैं पूरक ले सकता हूँ?

निर्भर करता है। हर्बल सप्लीमेंट आपके शरीर की दवा या ओवर-द-काउंटर उत्पादों पर प्रतिक्रिया करने के तरीके को बदल सकते हैं। उदाहरण के लिए, सेंट जॉन पौधा कुछ दवाओं को संसाधित करने की शरीर की क्षमता को कम करता है। इसका मतलब है कि आपको जरूरत से कम राशि मिलेगी। यही कारण है कि हर्बल सप्लीमेंट्स का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर की मंजूरी लेना महत्वपूर्ण है।

हालांकि कुछ हर्बल सप्लीमेंट स्वस्थ लोगों के लिए सुरक्षित हो सकते हैं, वे कुछ मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों को बदतर बना सकते हैं, भले ही आप इस स्थिति के लिए दवा नहीं ले रहे हों। कुछ करते हैं। बहुत से लोग बिना किसी समस्या के हर्बल सप्लीमेंट का उपयोग करते हैं, और रिपोर्ट करते हैं कि वे बेहतर महसूस करते हैं। यदि आप हर्बल सप्लीमेंट्स लेना चाहते हैं, तो आपको पहले अपने डॉक्टर से इस बारे में चर्चा करनी चाहिए। "प्राकृतिक" लेबल वाले उत्पाद आवश्यक रूप से सुरक्षित नहीं हैं। गलत खुराक में या अन्य दवाओं के साथ मिश्रित कुछ हर्बल उत्पाद खतरनाक हो सकते हैं।

हर्बल सप्लीमेंट का उपयोग किसे नहीं करना चाहिए?

हर्बल उत्पाद अप्रत्याशित जोखिम पैदा कर सकते हैं क्योंकि कई पूरक में सक्रिय तत्व होते हैं जिनका शरीर पर मजबूत प्रभाव पड़ता है। उदाहरण के लिए, हर्बल सप्लीमेंट्स का संयोजन लेने या डॉक्टर के पर्चे वाली दवाओं के साथ सप्लीमेंट्स का उपयोग करने से हानिकारक, यहां तक ​​कि जानलेवा परिणाम भी हो सकते हैं।

हर्बल सप्लीमेंट्स के बारे में अपने डॉक्टर से बात करना विशेष रूप से महत्वपूर्ण है यदि:

• आप प्रिस्क्रिप्शन या ओटीसी दवाएं ले रहे हैं। एस्पिरिन, ब्लड थिनर और ब्लड प्रेशर दवाओं जैसी दवाओं के साथ मिश्रित होने पर कुछ जड़ी-बूटियाँ गंभीर दुष्प्रभाव पैदा कर सकती हैं।

• आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं। एक वयस्क के रूप में आपके लिए सुरक्षित हो सकने वाली दवाएं आपके बच्चे के लिए हानिकारक हो सकती हैं।

• आपकी सर्जरी हो रही है। कई हर्बल सप्लीमेंट सर्जरी की सफलता को प्रभावित कर सकते हैं। कुछ एनेस्थीसिया की प्रभावशीलता को कम कर सकते हैं या रक्तस्राव जैसी खतरनाक जटिलताओं का कारण बन सकते हैं।

• आप 18 वर्ष से कम या 65 वर्ष से अधिक उम्र के हैं। बच्चों में कुछ हर्बल सप्लीमेंट्स का परीक्षण किया गया है या बच्चों के लिए सुरक्षित खुराक स्थापित की गई है। और बड़े वयस्क दवाओं को अलग तरह से मेटाबोलाइज कर सकते हैं।

क्या हर्बल स्वास्थ्य उत्पाद या पूरक ओटीसी या प्रिस्क्रिप्शन दवाओं के काम करने के तरीके को बदल सकते हैं?

हाँ। हर्बल स्वास्थ्य उत्पाद या पूरक शरीर द्वारा दवाओं को संसाधित करने के तरीके को प्रभावित कर सकते हैं। जब ऐसा होता है, तो हो सकता है कि आपकी दवा उस तरह से काम न करे जैसी उसे करनी चाहिए। उदाहरण के लिए, सेंट जॉन पौधा शरीर द्वारा अवशोषित कुछ दवाओं की मात्रा को कम करता है। जब ऐसा होता है, तो दवाओं को उन स्वास्थ्य स्थितियों में मदद करने के लिए पर्याप्त उच्च स्तर पर अवशोषित नहीं किया जा सकता है जिनके लिए उन्हें निर्धारित किया गया है। इससे गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। यदि आप कोई ओटीसी या प्रिस्क्रिप्शन दवाएं लेते हैं, तो किसी भी प्रकार के हर्बल स्वास्थ्य उत्पाद या पूरक लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

अपने डॉक्टर से पूछने के लिए प्रश्न

• मुझे कैसे पता चलेगा कि मुझे हर्बल सप्लीमेंट लेने की आवश्यकता है?

• मुझे कैसे पता चलेगा कि कितना हर्बल सप्लीमेंट लेना है?

• कौन से हर्बल सप्लीमेंट मेरे लिए फायदेमंद हो सकते हैं?

• क्या कोई हर्बल सप्लीमेंट मेरे किसी नुस्खे में हस्तक्षेप कर सकता है?

• क्या हर्बल सप्लीमेंट के दुष्प्रभाव होते हैं?

• क्या कोई है जिसे हर्बल सप्लीमेंट लेने से बचना चाहिए?

• मैं सही हर्बल सप्लीमेंट कैसे चुनूं?

• अगर मैं गर्भवती हूं या स्तनपान करा रही हूं तो क्या मैं हर्बल सप्लीमेंट ले सकती हूं?

• कौन से हर्बल सप्लीमेंट बच्चों के लिए सुरक्षित हैं?

आप कैसे जानते हैं कि हर्बल सप्लीमेंट्स में क्या है?

FDA के लिए आवश्यक है कि पूरक लेबल में यह जानकारी शामिल हो:

• पूरक का नाम

• निर्माता या वितरक का नाम और पता

• सामग्री की पूरी सूची

• सर्विंग साइज़, मात्रा और सक्रिय संघटक

यदि आपको लेबल पर कुछ समझ में नहीं आता है, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से समझाने के लिए कहें।

उत्पादों में सामग्री की तुलना करने का एक आसान तरीका आहार अनुपूरक लेबल डेटाबेस का उपयोग करना है, जो यूएस नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के लिए वेबसाइट पर उपलब्ध है। आप ब्रांड नाम, उपयोग, सक्रिय संघटक या निर्माता द्वारा उत्पादों को देख सकते हैं।

मैं हर्बल स्वास्थ्य उत्पादों और सप्लीमेंट्स को सुरक्षित रूप से कैसे स्टोर कर सकता हूं?

सभी हर्बल स्वास्थ्य उत्पादों और सप्लीमेंट्स को छोटे बच्चों की पहुंच और दृष्टि से दूर और दूर स्टोर करें। उन्हें ऐसी जगह पर स्टोर न करें जो गर्म और आर्द्र हो (उदाहरण के लिए, बाथरूम या बाथरूम कैबिनेट)। इन उत्पादों को ठंडी, सूखी जगह पर रखने से उन्हें उनकी समाप्ति तिथि से पहले कम प्रभावी होने से बचाने में मदद मिलेगी।

आपको कैसे पता चलेगा कि पूरक दावे सही हैं?

हर्बल सप्लीमेंट्स के निर्माता यह सुनिश्चित करने के लिए ज़िम्मेदार हैं कि वे अपने उत्पादों के बारे में जो दावे करते हैं, वे झूठे या भ्रामक नहीं हैं और उनके पास पर्याप्त सबूत हैं। लेकिन उन्हें यह सबूत एफडीए को जमा करने की आवश्यकता नहीं है।

तो एक स्मार्ट उपभोक्ता बनें। केवल किसी उत्पाद की मार्केटिंग पर निर्भर न रहें। किसी उत्पाद के दावों का मूल्यांकन करने के लिए वस्तुनिष्ठ, शोध-आधारित जानकारी देखें।

पूरक के बारे में विश्वसनीय जानकारी प्राप्त करने के लिए:

• अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से पूछें: भले ही वे किसी विशिष्ट पूरक के बारे में नहीं जानते हों, फिर भी वे आपको इसके उपयोग और जोखिमों के बारे में नवीनतम चिकित्सा मार्गदर्शन के बारे में बता सकते हैं।

• वैज्ञानिक अनुसंधान के निष्कर्षों की तलाश करें: अमेरिका में दो अच्छे स्रोत पूरक और एकीकृत स्वास्थ्य के लिए राष्ट्रीय केंद्र और आहार अनुपूरक कार्यालय हैं। दोनों के पास ऐसी वेबसाइटें हैं जो उपभोक्ताओं को पूरक आहार के बारे में सूचित विकल्प बनाने में मदद करती हैं।

• निर्माता से संपर्क करें: यदि किसी विशिष्ट उत्पाद के बारे में आपके कोई प्रश्न हैं, तो निर्माता या वितरक को कॉल करें। किसी ऐसे व्यक्ति से बात करने के लिए कहें जो सवालों का जवाब दे सके, जैसे कि कंपनी के पास उत्पाद के दावों को प्रमाणित करने के लिए कौन सा डेटा है।

हर्बल सप्लीमेंट्स का उपयोग करने के लिए सुरक्षा युक्तियाँ

यदि आपने अपना होमवर्क कर लिया है और हर्बल सप्लीमेंट लेने की योजना बना रहे हैं, तो इसे इन युक्तियों के साथ सुरक्षित रखें:

• निर्देशों का पालन करें। अनुशंसित खुराक से अधिक न लें या अनुशंसित से अधिक समय तक न लें।

• आप जो भी लेते हैं उसका ट्रैक रखें। इस बात पर ध्यान दें कि आप क्या लेते हैं - और कितने समय तक - और यह आपको कैसे प्रभावित करता है। यदि यह प्रभावी नहीं है या इसे लेने के आपके लक्ष्यों को पूरा नहीं करता है तो पूरक लेना बंद कर दें।

• अपना ब्रांड समझदारी से चुनें। उन ब्रांडों से चिपके रहें जिनका परीक्षण स्वतंत्र स्रोतों द्वारा किया गया है, जैसे ConsumerLab.com, US Pharmacopeia और NSF International।

• अलर्ट और सलाह की जाँच करें। FDA उन सप्लीमेंट्स की एक सूची रखता है जो नियामक समीक्षा के अधीन हैं या जिनके प्रतिकूल प्रभाव होने की सूचना मिली है। अद्यतन के लिए समय-समय पर FDA की वेबसाइट देखें।

अगर मुझे स्वास्थ्य समस्याएं हैं तो क्या हर्बल स्वास्थ्य उत्पादों और पूरक आहार लेना सुरक्षित है?

यदि आपको कुछ स्वास्थ्य समस्याएं हैं, गर्भवती हैं, या स्तनपान करा रही हैं तो हर्बल स्वास्थ्य उत्पाद और पूरक सुरक्षित नहीं हो सकते हैं। बच्चों और बड़े वयस्कों को भी इन उत्पादों से प्रतिकूल प्रभाव का खतरा बढ़ सकता है, क्योंकि उनके शरीर सामग्री को अलग तरह से संसाधित करते हैं।

यदि आप सर्जरी कराने जा रहे हैं, तो अपने डॉक्टर को किसी भी हर्बल स्वास्थ्य उत्पादों और आपके द्वारा उपयोग किए जाने वाले पूरक के बारे में बताएं। ये उत्पाद सर्जरी की समस्या पैदा कर सकते हैं, जिसमें एनेस्थीसिया के साथ रक्तस्राव की समस्या शामिल है। आपको सर्जरी से कम से कम दो सप्ताह पहले या यदि आपका डॉक्टर इसकी सिफारिश करता है तो इससे पहले हर्बल स्वास्थ्य उत्पादों या पूरक का उपयोग करना बंद कर देना चाहिए।

आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है या नहीं, किसी भी हर्बल स्वास्थ्य उत्पाद या पूरक को लेने से पहले अपने परिवार के डॉक्टर से बात करना हमेशा सबसे अच्छा होता है।

health-problems



उपर ब्लॉग में बताई गई उपलब्धिया AFD-SHIELD के साथ उपलब्ध हैं
एएफडी शील्ड कैप्सूल 12 प्राकृतिक अवयवों का एक संयोजन है जिनमें से अलगल डीएचए, अश्वगंधा, करक्यूमिन और स्पिरुलिना हैं। एएफडी शील्ड टीजी को कम करता है, एचडीएल बढ़ाता है और उम्र से संबंधित संज्ञानात्मक गिरावट में सुधार करता है। यह तनाव और चिंता को भी कम करता है और एंटी-एजिंग गतिविधि करता है। इसके अलावा, यह इम्युनोमॉड्यूलेटरी गतिविधि को बढ़ाता है, प्रतिरक्षा में सुधार करता है और सूजन और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है। न्यूट्रोग्लिग्क्स: एएफडी-शील्ड

AFDIL Ltd.
+91 9920121021

order@afdil.com

Read Also:


Disclaimer
Home