Benefits Of Yoga Self Care

Yoga is everywhere and practicing yoga self care everyday helps to reduce stress, inflammation and chronic pain. When we add yoga self care to our routine, it gives us relief. Yoga self- care is a type of meditation that makes us feel refreshed and limber. It is acitivity that involves mind and soul both and it benefits everyone whether an athlete, a senior citizen or a young person. There are many forms of yoga self care and it is beneficial to start from the easiest ones as it can help the body to adapt with it. Yoga self care improves mental health, treats insomnia and increases balance and strength of the body. Yoga self- care helps you to feel good about yourself.

Benefits Of Yoga Self Care

As people are getting busy in their daily lives and are not able to balance personal and professional life efficiently, a good self care routine even for 10-15 minutes everyday can help release stress and bring happiness. Yoga self-care is a method that benefits physical, emotional and mental health. It helps to improve strength and balance of the body physically. Emotionally and mentally, it helps to cope up with depression and stress. It can be done at any time. Yoga self-care also inspires us to take care of ourselves. Yoga and mindfulness are important part of self –care. It is known to improve health, reduce stress and increase capacity to maintain relationships. Benefits of yoga are reduced risk of injury, improved concentration and improves sleep. Another main benefit of yoga is that it improves flexibility and strength of the body.

The Self-Care Benefits of Yoga

Yoga is one of the best self care techniques. Lying down or sitting on the mat can benefit your mind, heart and bones and can also helps to change the expression of your genes. With yoga, a person can undergo complete transformation and can change his/her life. There are many reasons to practice yoga self care. The main reason to practice yoga self care is that it helps to establish connection between mind and soul. Another reasons to practice yoga self-care are improved posture of the body, increased awareness and increase in stamina.
Benefits of yoga self care are described below:

1. Boost immunity : Yogic breathing exercises such as pranayama can boost the immune system and help to fight against common ailments such as cold and flu. It is shown that people who do pranayama regularly have better breathwork and have low levels of interleukins and high levels of immunoglobulins, which help in preventing cold and flu caused by germs, bacteria and viruses.

2. Reduce chronic inflammation: Pranayama is also known to reduce long term inflammation. Chronic inflammation when not reduced, leads to higher levels of cytokines which can lead to tissue damage. These yogic breathing exercises help to decrease the levels of cytokines. Pranayama also helps to secrete mucin, heavy molecular weight proteins which absorb excess of cytokines and mucin also releases the cytokines in case of infections.

3. Gain more self-control: Meditation affects those regions of the brain that play an important role in self control and executive function. This helps you to stick to your plan and reduces the desires that are not beneficial for you in the long run. Initially it will be difficult to reduce the desires but when you make a habit of meditating everyday even if it's for 5 minutes you can surpass your desires and can achieve what is important.

4. Improve social and speaking skills: If you feel nervous or shy or low confident when you meet someone new or when you have to give a presentation or teach, meditation is the best remedy for you as it boosts your self esteem and increases confidence. Meditation has a huge positive impact on temporal lobe, paracentral lobe and precentral gyrus which improves social interaction, communication and speech.

5. Enhance working memory : As yoga keeps the brain sharp, it improves the mindset and decision making ability of an individual. It is observed that doing yoga for 40-50 minutes followed by a mediation session helps to improve recollective powers. It also works on improving the working memory of an individual.

6. Improve overall brain health : Yoga also improves the brain functioning in the long term. Yoga boosts the levels of a protein called brain- derived neurotrophic factor (BDNF) which assists in growth and survival of neurons and low level of this protein leads to stress, depression, Alzheimer’s and Huntington’s diseases. It is observed that doing 60-80 minutes of yoga followed by a mediation session of 20-25 minutes have boosted BDNF levels by 300%. Yoga and meditation practices restore the brain tissues which leads to enhancement of BDNF signaling.

Related Topics

1.What is self-care & importance of self-care

Self-care means doing activities that makes us feel good and releases stress. Along with other day to day activites, self-care is also important for the body as well as the soul. To know more visit: What is self-care & importance of self-care

2. Yoga for self-care

Yoga is one of the most essential componet of self-care. It makes you feel good about yourself and has a positive impact on your physical as well as mental health. To know more visit: Yoga for self-care

3. Benefits of self-care

There are several benefits of self care such as improved productivity, improved immune system, enhanced self-knowledge and self- compassion.The main benefit is that it brings happiness to your life. To know more visit: Benefits of self-care

4. How to start a self-care routine

As many people face difficulty in starting a self-care routine, it is better to start including small self-care practices such as meditaion, yoga or excercise in your daily routine. To know more visit: How to start a self-care routine

5. How to manage stress

Self-care is an important tool that helps us to feel healthy and happy and reduces stress even in the most stressful conditions. Self-care relaxes out body and soul as it reduces the negative feelings and anxeity.To know more visit: How to manage stress



The above essentials are available with AFD SHIELD
AFD Shield capsule is a combination of 12 natural ingredients among which are Algal DHA, Ashwagandha, Curcumin and Spirullina. AFD Shield reduces TG, increases HDL and improves age related cognitive decline. It also reduces stress and anxiety and performs anti-aging activity.Moreover, it also enhances the immunomodulatory activity, improves immunity and reduces inflammation and oxidative stress.

Nutralogicx: AFD SHIELD

योगा सेल्फ केयर के फायदे

योग हर जगह है और प्रतिदिन योगा सेल्फ केयर करने से तनाव, सूजन और पुराने दर्द को कम करने में मदद मिलती है। जब हम योग दिनचर्या को अपनी दिनचर्या में शामिल करते हैं, तो इससे हमें राहत मिलती है। योग आत्म-देखभाल एक प्रकार का ध्यान है जो हमें तरोताजा और सीमित महसूस कराता है। यह ऐसी संवेदनशीलता है जिसमें मन और आत्मा दोनों शामिल हैं और यह हर किसी को लाभान्वित करता है चाहे वह एक एथलीट, एक वरिष्ठ नागरिक या एक युवा व्यक्ति हो। योग आत्म देखभाल के कई रूप हैं और सबसे आसान से शुरू करना फायदेमंद है क्योंकि यह शरीर को इसके साथ अनुकूलित करने में मदद कर सकता है। योग आत्म देखभाल मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करता है, अनिद्रा का इलाज करता है और तन का संतुलन और शक्ति बढ़ाता है। योग आत्म देखभाल आपको अपने बारे में अच्छा महसूस करने में मदद करता है।

योगा सेल्फ केयर के फायदे

जैसे-जैसे लोग अपने दैनिक जीवन में व्यस्त होते जा रहे हैं और व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन को कुशलता से संतुलित नहीं कर पा रहे हैं, हर रोज 10-15 मिनट के लिए एक अच्छी आत्म देखभाल दिनचर्या भी तनाव मुक्त करने और खुशी लाने में मदद कर सकती है। योग आत्म-देखभाल एक ऐसी विधि है जो शारीरिक, भावनात्मक और मानसिक स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाती है। यह शारीरिक रूप से शरीर की ताकत और संतुलन को बेहतर बनाने में मदद करता है। भावनात्मक और मानसिक रूप से, यह अवसाद और तनाव से निपटने में मदद करता है। इसे कभी भी किया जा सकता है। योग आत्म-देखभाल हमें खुद की देखभाल करने के लिए भी प्रेरित करता है। योग और माइंडफुलनेस सेल्फ-केयर का महत्वपूर्ण हिस्सा है। यह स्वास्थ्य को बेहतर बनाने, तनाव को कम करने और रिश्तों को बनाए रखने की क्षमता बढ़ाने के लिए जाना जाता है। योग के फायदे चोट के जोखिम को कम करते हैं, एकाग्रता में सुधार और नींद में सुधार करते हैं। योग का एक और मुख्य लाभ यह है कि यह शरीर के लचीलेपन और ताकत में सुधार करता है।

योग की स्व-देखभाल के लाभ

योग सबसे अच्छी आत्म देखभाल तकनीकों में से एक है। चटाई पर लेटने या बैठने से आपके दिमाग, दिल और हड्डियों को फायदा हो सकता है और यह आपके जीन की अभिव्यक्ति को बदलने में भी मदद कर सकता है। योग के साथ, एक व्यक्ति पूर्ण परिवर्तन से गुजर सकता है और अपने जीवन को बदल सकता है। योग आत्म देखभाल का अभ्यास करने का मुख्य कारण यह है कि यह मन और आत्मा के बीच संबंध स्थापित करने में मदद करता है। योग आत्म-देखभाल का अभ्यास करने के अन्य कारणों में शरीर की मुद्रा में सुधार, जागरूकता में वृद्धि और सहनशक्ति में वृद्धि है।
योग आत्म देखभाल के लाभ नीचे दिए गए हैं:

1. प्रतिरक्षा को बढ़ावा देना : प्राणायाम जैसे योग साँस लेने के व्यायाम प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा दे सकते हैं और सर्दी और फ्लू जैसी सामान्य बीमारियों से लड़ने में मदद कर सकते हैं। यह दिखाया गया है कि जो लोग नियमित रूप से प्राणायाम करते हैं उनकी सांस की गति बेहतर होती है और उनमें इंटरल्यूकिन्स का स्तर कम और इम्युनोग्लोबुलिन का उच्च स्तर होता है, जो कीटाणुओं, बैक्टीरिया और वायरस के कारण होने वाले सर्दी और फ्लू को रोकने में मदद करते हैं।

2. पुरानी सूजन को कम करें : प्राणायाम को दीर्घकालिक सूजन को कम करने के लिए भी जाना जाता है। जब सूजन कम नहीं होती है, तो साइटोकिन्स के उच्च स्तर की ओर जाता है जिससे ऊतक क्षति हो सकती है। सांस लेने के इन व्यायामों से साइटोकिन्स के स्तर को कम करने में मदद मिलती है। प्राणायाम भी म्यूकिन, भारी आणविक भार प्रोटीन को स्रावित करने में मदद करता है जो साइटोकिन्स की अधिकता को अवशोषित करते हैं और संक्रमण के मामले में म्यूकिन भी साइटोकिन्स को छोड़ता है।

3. अधिक आत्म-नियंत्रण प्राप्त करें : ध्यान मस्तिष्क के उन क्षेत्रों को प्रभावित करता है जो आत्म नियंत्रण और कार्यकारी कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यह आपको अपनी योजना से चिपके रहने में मदद करता है और उन इच्छाओं को कम करता है जो लंबे समय में आपके लिए फायदेमंद नहीं हैं। शुरू में इच्छाओं को कम करना मुश्किल होगा लेकिन जब आप हर रोज ध्यान करने की आदत डालेंगे तो भी अगर यह 5 मिनट के लिए है तो आप अपनी इच्छाओं को पार कर सकते हैं और जो महत्वपूर्ण है उसे प्राप्त कर सकते हैं।

4. सामाजिक और बोलने के कौशल में सुधार: यदि आप किसी नए से मिलते हैं या जब आपको कोई प्रेजेंटेशन देना या पढ़ाना होता है, तो आपको घबराहट या शर्म या कम आत्मविश्वास महसूस होता है, तो ध्यान आपके लिए सबसे अच्छा उपाय है क्योंकि यह आपके आत्मसम्मान को बढ़ाता है और आत्मविश्वास बढ़ाता है। मेडिटेशन का टेम्पोरल लोब, पैरासेंट्रल लोब और प्रीसेन्ट्रल गाइरस पर भारी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है जो सामाजिक संपर्क, संचार और भाषण में सुधार करता है।

5. काम करने की याददाश्त को बढ़ाएं : जैसे-जैसे योग मस्तिष्क को तेज बनाए रखता है, यह व्यक्ति की मानसिकता और निर्णय लेने की क्षमता में सुधार करता है। यह देखा गया है कि एक मध्यस्थता सत्र के बाद 40-50 मिनट तक योग करने से स्मरण शक्ति को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। यह किसी व्यक्ति की कार्यशील मेमोरी को बेहतर बनाने पर भी काम करता है।

6. समग्र मस्तिष्क स्वास्थ्य में सुधार : योग भी लंबे समय में मस्तिष्क के कामकाज में सुधार करता है। योग मस्तिष्क-व्युत्पन्न न्यूरोट्रॉफिक कारक (बीडीएनएफ) नामक एक प्रोटीन के स्तर को बढ़ाता है जो न्यूरॉन्स के विकास और अस्तित्व में सहायता करता है और इस प्रोटीन का निम्न स्तर तनाव, अवसाद, अल्जाइमर और हंटिंगटन रोगों को जन्म देता है। यह देखा गया है कि 20-25 मिनट की मध्यस्थता सत्र के बाद 60-80 मिनट के योग करने से बीडीएनएफ का स्तर 300% बढ़ गया है। योग और ध्यान अभ्यास मस्तिष्क के ऊतकों को बहाल करते हैं जो बीडीएनएफ सिग्नलिंग को बढ़ाते हैं।

संबंधित विषय

1. स्व-देखभाल और स्व-देखभाल का महत्व क्या है

सेल्फ-केयर का मतलब है ऐसी गतिविधियाँ करना जो हमें अच्छा महसूस कराती हैं और तनाव मुक्त करती हैं। अन्य दिन-प्रतिदिन के क्रियाकलापों के साथ-साथ आत्म-देखभाल शरीर के साथ-साथ आत्मा के लिए भी महत्वपूर्ण है। अधिक यात्रा जानने के लिए: आत्म-देखभाल का आत्म-देखभाल और महत्व क्या है।

2. स्वयं की देखभाल के लिए योग

योग आत्म-देखभाल के सबसे आवश्यक डेटासेट में से एक है। यह आपको अपने बारे में अच्छा महसूस कराता है और आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डालता है। अधिक यात्रा जानने के लिए: स्वयं की देखभाल के लिए योग

3. स्व-देखभाल के लाभ

आत्म देखभाल के कई लाभ हैं जैसे कि बेहतर उत्पादकता, बेहतर प्रतिरक्षा प्रणाली, बढ़ा हुआ आत्म-ज्ञान और आत्म-करुणा। मुख्य लाभ यह है कि यह आपके जीवन में खुशी लाता है। अधिक यात्रा जानने के लिए: स्व-देखभाल के लाभ

4. सेल्फ-केयर रूटीन कैसे शुरू करें

चूंकि कई लोगों को एक स्व-देखभाल दिनचर्या शुरू करने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है, इसलिए बेहतर होगा कि आप अपनी दिनचर्या में ध्यान, योग या एक्सर्साइज़ जैसी छोटी आत्म-देखभाल प्रथाओं को शामिल करें। अधिक यात्रा जानने के लिए: Hसेल्फ-केयर रूटीन कैसे शुरू करें

5. तनाव को कैसे प्रबंधित करें

स्व-देखभाल एक महत्वपूर्ण उपकरण है जो हमें स्वस्थ और खुश महसूस करने में मदद करता है और सबसे तनावपूर्ण परिस्थितियों में भी तनाव को कम करता है। स्व-देखभाल से शरीर और आत्मा को आराम मिलता है क्योंकि यह नकारात्मक भावनाओं और चिंता को कम करता है। अधिक जानकारी के लिए देखें: तनाव को कैसे प्रबंधित करें



उपर ब्लॉग में बताई गई उपलब्धिया AFD-SHIELD के साथ उपलब्ध हैं
एएफडी शील्ड कैप्सूल 12 प्राकृतिक अवयवों का एक संयोजन है जिनमें से अलगल डीएचए, अश्वगंधा, करक्यूमिन और स्पिरुलिना हैं। एएफडी शील्ड टीजी को कम करता है, एचडीएल बढ़ाता है और उम्र से संबंधित संज्ञानात्मक गिरावट में सुधार करता है। यह तनाव और चिंता को भी कम करता है और एंटी-एजिंग गतिविधि करता है। इसके अलावा, यह इम्युनोमॉड्यूलेटरी गतिविधि को बढ़ाता है, प्रतिरक्षा में सुधार करता है और सूजन और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है।

न्यूट्रोग्लिग्क्स: एएफडी-शील्ड


AFDIL Ltd.
+91 9920121021

order@afdil.com

Read Also:


Disclaimer
Home